You are here

गरीबो का गेहू ,चावल बिक रहा खुले बाजार में ,विभागीय अधिकारी संलिप्त

सरकार गरीबी रेखा के से नीचे के परिवारो की सहायता के लिए गेहूं , दाल , चीनी,कच्चे तेल आदि राशन देती है जिस हेतु हर गांव में डिपो खोले हुए है। इसके साथ ही उन परिवारो तक वो अनाज पहुचंता भी है या नही इसके लिए समय-समय पर जांच भी की जाती है। लेकिन सरकार को चकमा देकर अधिकारियो व डिपोधारको के बिच एक डील कर ली जाती है या ये भी कह सकते है की दोनो मिलकर एक खेल खेलते है जिसकी भनक ना सरकार को लगती है ना ही भोले-भाले गरीब परिवारो को ओर गरीबो के लिए आया राशन कहां गायब कर दिया जाता है ये तक नही पता चलता। हर माह निजी दुकानो पर राशन बिकना कोई अचम्भे की बात नही है । लेंकिन अधिकारियो ओर डिपो होल्डरो के बीच का ये खेल बंद होना नामुनकीम सा लगता है।
ऐसा ही कुछ देखने को मिला हमारे द्वारा किए गए स्टींग में जिसमें देखने को मिला की कोसली ,जाटूसाना,बावल,रेवाड़ी में विशेष टीम जांच के लिए आती है जांच के नाम पर खानापूर्ति कर जाती है| कोसली के खाद्य एंव आपूर्ति विभाग के सब-इंस्पैकटर डिपो होल्डरो के साथ बैठकर मीटिंग करता है तथा कहता है कि जांच टीम ने जांच कर ली है जिसमें जांच के नाम पर अधिकारियो ओर डिपो होल्डरो के बिच 100 रूपये प्रति किवंटल के हिसाब से डील कर ली जाती है जो जांच अधिकारियो को देना है। फुड सप्लाई के इंस्पेक्टर कहते है की हमे तो यही कमाना है ओर यही खाना है पर जांच अधिकारी कुछ भी कर सकते है इसके लिए उन्हे कोसली से ढाई लाख करके देने पडेंगे। ये हम नही कह रहे ये सब अधिकारीयो ओर डिपो होल्डरो के बिच के खेल का स्टींग कह रहा है।
बहुत बड़ा रैकेट गरीबो के गेहू को खा जाता है ओर उन गरीबो को इसकी भनक तक नही लगती अगर मूलभूत अनाज गेहूं का ही ये हाल है तो दाल , चीनी आदि के बारे में तो सोचा भी नही जा सकता। जांच के नाम पर डील कर ली जाती है जांच के नाम पर 100 रूपये प्रति किंवटल के हिसाब से डील हो जाती है अब जरा सोचिए कोसली , रेवाडी ,जाटूसाना , बावल पूरे ऐरिए की 100 रूपये प्रति किंवटल के हिसाब से गणना करे तो ये आकडा कितना बनता है। इस्पेकटर की गणना के हिसाब से 15 लाख रूपये पूरे जिले के बनते है।
वही इस बारे में बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता वीरकुमार यादव कहते है कि बहुत ही दुख की बात है हमारे मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए मेहनत कर रहे है तथा अधिकारी सरकार को भी बदनाम कर रहे है साथ ही उन्होने कहा कि मै इन अधिकारीयो को व्यकिगत तौर से तो नही जानता इनकी जांच करा के इन्हें तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करवाया जाएगा।
वही कांग्रेश के एस सी सेल प्रदेश उपाध्यक्ष औमप्रकाश डाबला ने कहा कि भाजपा पार्टी जिस समय आई थी उस समय कहा था कि हम भ्रष्टाचार को मुक्त कराएगें और आज बडी दुःख की बात है यह गरीबों का राशन डकार रहे है और यह सरकार की मिली भगत होने के कारण यह खेल खेला जा रहा है , जांच के नाम पर सब झुठ है । पहले भी जांचे होई थी सब पेडिग में डाल दी है खनापूर्ती के शिवा कुछ भी नही होने वाला भाजपा सरकार में ।

इसे भी पढ़े -