You are here

अभिनेता ओमपुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन




फिल्म इंडस्ट्री के बड़े अभिनेताओं में शुमार ओमपुरी नहीं रहे. उनकी 6 जनवरी की सुबह दिल का दौरा पड़ने की वजह से मृत्यु हो गई.

ओमपुरी का जन्म 18 अक्टूबर 1950 को हुआ था. बताया जा रहा है कि वह बीते कई दिनों से बीमार थे. एक गंभीर अभिनेता के रूप में करियर की शुरुआत करने वाले ओम पुरी ने बाद में कॉमिडी फिल्मों में भी खूब शानदार भूमिकाएं कीं. आक्रोश, आरोहण, अर्धसत्य, माचिस, मालामाल वीकली जैसी उनकी फिल्में दर्शकों और आलोचकों दोनों के बीच काफी पॉपुलर रहीं.

उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की. 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ओम पुरी ने लगभग डेढ़ वर्ष तक एक स्टूडियो में अभिनय की शिक्षा दी. बाद में ओम पुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप ‘मजमा’ की स्थापना की. ओम पुरी ने अपने फिल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी. वर्ष 1980 में रिलीज फिल्म ‘आक्रोश’ ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुई. अर्धसत्य ने उन्हें हीरो बनाया तो तमस के जरिए वह हर घर तक पहुंचे.

वह हिंदी के अलावा अंग्रेजी, कन्नड़ और पंजाबी भाषा की फिल्मों में भी काम कर चुके थे. ओम पुरी को उनकी शानदार एक्टिंग के अलावा जानदार आवाज के लिए जाना जाता था.

कई फिल्मों में ओमपुरी के साथ काम करने वाले अनुपम खेर ने उनके निधन पर दुख जताया है.

इसे भी पढ़े -