You are here

झूठा प्रधानमंत्री नवाज शरीफ

नई दिल्ली |भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ ने फिर भारत के खिलाफ जहर उगला है.  कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पाकिस्तानी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक कश्मीर का मसला हल नहीं होता, तब तक पाकिस्तान और भारत के बीच अमन कायम नहीं हो सकता|

पाकिस्तान के पीएम ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर के हक के लिए हर मुमकिन मदद के लिए तैयार है. हमने भारत से बातचीत के लिए हर मुमकिन कोशिश की, लेकिन भारत की तरफ से उसे आगे बढ़ाने के प्रयास नहीं किए गए.शरीफ ने संसद में बुरहान वानी का जिक्र किया और कहा कि कश्मीरियों के दिल में आजादी की तड़प है. शरीफ ने एक बार फिर बुरहान वानी को हीरो बताया. नवाज ने कहा कि सियासी कश्मीरी कैदियों को रिहा किया जाए|

PAK बेनकाब, चश्मदीद बोले- ट्रकों से ले जाए गए थे आतंकियों के शव, हुई थी गोलीबारी

नवाज शरीफ ने कहा कि भारत उरी हमले के लिए पाकिस्तान पर इल्जाम लगा रहा है. भारत बिना सबूत के आरोप लगा रहा है. भारत ने छह घंटे में हम पर आरोप लगा दिया. भारत ने एलओसी से गोलीबारी की, इसमें हमारे दो सैनिक मारे गए. नवाज ने पीएम मोदी द्वारा पाकिस्तानी आवाम को संबोधित करने पर जवाब देते हुए कहा कि बेरोजगारी और भूखमरी का मुकाबला बारुद से नहीं किया जा सकता. जिन खेतों पर बारुद बोया जा रहा है उसमें रोजगार नहीं पैदा किया जा सकता. आग, खून और बारूद से हम गरीबी नहीं मिटा सकते|

 

नवाज शरीफ ने भारत की सर्जिकल स्ट्राइक को नकारते हुए कहा कि पाकिस्तान की सुरक्षा के लिए हम सब एक हैं और तैयार हैं. हम जंग के खिलाफ हैं और कश्मीर समेत सभी मसले अमन से हल करना चाहते हैं|कश्मीर के साथ पाकिस्तान के भौगोलिक और ऐतिहासिक रिश्ते हैं. हम कश्मीर के साथ हैं. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक को एक बार फिर नकारा और कहा कि भारत की किसी भी कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा|

पाकिस्तानी संसद में नवाज शरीफ ने कहा कि उरी हमले के तुरंत बाद ही भारत ने पाकिस्तान पर आरोप लगाने शुरू कर दिए थे. पाकिस्तानी संसद में संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि हम कश्मीर मुद्दे का हल चाहते हैं. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री का कहना था कि हम अमन और शांति चाहते हैं नवाज शरीफ का कहना है कि हम बार-बार भारत के साथ बातचीत करना चाहते थे मगर भारत में हमेशा से उसे तोड़ा|

नवाज शरीफ का यह भी कहना है कि पाकिस्तान भी आतंकवाद से प्रभावित है. हमने इसके खात्मे के प्रयास किए और कर रहे हैं. मगर हम अपने सम्मान को बचाने की खातिर एक पल भी नहीं सोचेंगे. हम किसी भी कार्रवाई का जवाब देने के लिए तैयार हैं|

इसे भी पढ़े -