You are here

सर्जि‍कल स्ट्राइक के बाद यूपी में अलर्ट, इंडो-नेपाल बॉर्डर की बढ़ी सुरक्षा

लखनऊ|  इंडि‍यन आर्मी के सर्जि‍कल स्ट्राइक के बाद उत्तर प्रदेश  से जुड़े इंडो-नेपाल बॉर्डर सहि‍त पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया। एडीजी एलओ ने सभी जिले के कप्तान और सुरक्षा एजेंसि‍यों को सतर्क रहने का निर्देश दिया है। महाराजगंज जिले में तैनात एसएसबी के डीआईजी उपेंद्र बलोडी ने बॉर्डर पर सघन चेकिंग करने और संदिग्धों पर विशेष नजर रखने का निर्देश दिया है।
                          यूपी की सीमा से जुड़ी इंडो-नेपाल बॉर्डर में लखीमपुर, बलरामपुर, बहराइच और महाराजगंज का इलाका है। इस बॉर्डर की कुल लंबाई 1,751 किमी है। यह पूरी तरह से ओपन है। यूपी में यह सीमा 551 किमी लंबी है। उत्तराखंड में 275 किमी, बिहार में 726 किमी, पश्चिम बंगाल में 100 किलोमीटर, सिक्‍कि‍म में 99 किमी की लंबाई में ओपन बॉर्डर है।इंडो नेपाल बॉर्डर के ओपन होने के चलते आतंकी गतिविधियां होने की आशंका बढ़ जाती है। सर्जि‍कल स्ट्राइक के बाद यूपी में किसी तरह की आतंकी गतिविधि को रोकने के लिए इंडो-नेपाल बॉर्डर हाई अलर्ट घोषित कर उस पर निगरानी बढ़ा दी गई है।
                पाक पर जवाबी कार्रवाई के बाद यूपी में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। खासतौर पर आर्मी कैंप और बॉर्डर एरिया की सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश जारी किए गए हैं। एडीजी एलओ दलजीत चौधरी ने बॉर्डर से जुड़े जि‍लों की चौकी और आर्मी बेस कैंप की सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया है। उधर, सीमा सुरक्षा बल ने भी इंडो-नेपाल बॉर्डर पर गश्त बढ़ा दी है। खुफिया एजेंसी भी बॉर्डर इलाके में पूरी तरह से सक्रिय हो गई है।

इसे भी पढ़े -