You are here

शिव सेना की भाजपा को नसीहत ,हमें देश भक्ति न सिखाए

नई दिल्ली .कट्टर हिन्दूवादी विचारधारा के सहारे कई वर्षो तक एक दुसरे के सहयोगी रहे भाजपा -शिवसेना में आरोप -प्रत्यारोप का दौर सार्वजनिक हो चूका है ,शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार की आलोचना भी सार्वजनिक तौर पर खूब किया है .

शनिवार को मुंबई के शिवाजी पार्क में अपनी पार्टी की दशहरा रैली में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भाजपा पर वार करते हुए कहा कि “हमें देशभक्ति मत सिखाओ. अभी वह दिन नहीं आया है कि हमें देशभक्ति सिखाने की ज़रूरत हो”.

उद्धव की पार्टी शिवसेना महाराष्ट्र सरकार में भाजपा की सहयोगी है. दोनों पार्टियों के बीच लंबे समय से गठबंधन रहा है, लेकिन हाल के दिनों में संबंध ख़राब हुए हैं और शिवसेना की ओर से अब खुले तौर पर भाजपा पर ज़ुबानी हमले हो रहे हैं.

उद्धव ने कहाकि “ऐसा माहौल बना दिया गया है कि नोटबंदी का समर्थन करने वाले देशभक्त हैं और विरोध करने वाले देशद्रोही.”बिगत दिनों महंगाई के ख़िलाफ शिवसेना ने एक विरोध प्रदर्शन आयोजित किया था, जिसमें कथित तौर पर ऐसी टिप्पणियां की गई थीं.

उद्धव ने जम्मू-कश्मीर में भाजपा और पीडीपी के गठबंधन पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा, “कश्मीर में आपका पीडीपी से क्या वैचारिक संबंध है? जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को अब तक वापस क्यों नहीं लिया गया?” भाजपा के साथ हिंदुत्व के लिए गठबंधन किया था, जब हिंदुत्व शब्द से लोग बचते थे. अगर उन्हें लगता है कि हम उनके किसी काम के नहीं रहे तो हम ये भी देख लेंगे.

भाजपा से सवाल पूछते हुए उन्होंने कहा कि “हमें बताओ कि आपके हिंदुत्व की परिभाषा क्या है.
उद्धव ने केंद्र सरकार की नीतियों और महत्वाकांक्षी योजनाओं पर व प्रधानमंत्री के बुलेट ट्रेन की योजना पर हमला करते हुए कहा कि बुलेट ट्रेन कौन चाहता है? पहले रेलवे का इन्फ्रास्ट्रक्चर सुधारो.

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने कहा था कि जीएसटी से टैक्स में एकरूपता आएगी? कहां है एकरूपता? यहां तक कि पाकिस्तान में पेट्रोल हमसे सस्ता मिल रहा है.

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




इसे भी पढ़े -

Leave a Comment