You are here

राजधानी लखनऊ को दहलाने की साजिश

लखनऊ |मरीजो के परिजनों की समझदारी से देर रात लखनऊ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल में एक बड़ा हादसा होने से बच गया। यहां पार्किंग में खड़ी सौ से अधिक बाइकों के कारबोरेटर में पेट्रोल ले जाने वाले पाइप खुले या गायब मिले और करीब चार-पांच कारों के बोनट खोलकर पेट्रोल निकालकर बहा दिया गया था।इन सभी गाड़ियों का सारा ईंधन पार्किंग स्थल पर फैल गया। एक बाइक का कुछ हिस्सा जला हुआ था।

एक मरीज का परिजन  जब अपनी कार पार्किंग से निकालने पहुंचा तो उसने यह दृश्य देखा और तुरंत अपने साथियों और अन्य लोगों को जानकारी दी। थोड़ी ही देर में दुर्गंध सूंघकर अन्य लोग भी इकट्ठा हो गए। थोड़ी ही देर में इंस्पेक्टर व सीओ भी मौके पर पहुंच गए। किसी ने वहां आगजनी की साजिश की थी लेकिन समय रहते पता चलने पर हादसा टल गया। पुलिस मामले की सभी पहलुओं से पड़ताल कर रही है।

अस्पताल परिसर में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई लेकिन प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। एएसपी पूर्वी शिवराम यादव के अनुसार उक्त क्रिया कलाप किसी घटना साजिश है या किसी की शरारत, इसके सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए अधिकारियों को भी सूचना दे दी गई है।प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि यदि साजिशकर्ता मकसद में कामयाब हो जाते तो बड़ा हादसा हो सकता था। जिस तरह बड़ी संख्या में बाइकों और कारों का पेट्रोल बहाया गया उससे संदेह और गहरा जाता है। आतंकी साजिश को लेकर पहले ही पुलिस अलर्ट है। अस्पताल परिसर में मरीज और परिजनो को मिलाकर हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे।

 

इसे भी पढ़े -