You are here

अखिलेश की लिस्टव से अपर्णा का नाम गायब,आज जारी होगी अखिलेश की दूसरी लिस्ट




लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी की अंदरूनी कलह के बीच पार्टी दो धड़ों में बंट गयी है .मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यूपी की 403 विधानसभा सीटों में से 235 सीटों पर अपने प्रत्याशीयो की लिस्ट गुरुवार रात जारी कर दी थी समाजवादी पार्टी के इतिहास में में पहली बार 32 घंटों में मुलायम ,अखिलेश ,शिवपाल इन तीन लोगों की तरफ से तीन लिस्ट जारी की गईं।. अखिलेश द्वरा जारी लिस्ट में सबसे चौकाने वाली बात यह है कि इसमें मुलायम की छोटी बहू अपर्णा का नाम नहीं है. जबकि अपर्णा यादव का नाम लखनऊ कैंट से साल भर पहले ही घोषित हो चुका था.
अखिलेश के बगावती तेवर ,जारी किया 235 उम्मीदवारों की सूची
लखनऊ कैंट से मुलायम की लिस्ट में घोषित सपा प्रत्याशी अपर्णा यादव मुख्यमंत्री की सौतेली माँ साधना यादव के बेट प्रतीक की पत्नी हैं इस लिए यह कयास लगाए जा रहे हैं कि अखिलेश ने जानबूझ कर अपनी लिस्टप में उनका नाम नहीं रखा.अखिलेश ने जो अपने चहेते लोगों की एक लिस्ट जारी की है उसमे अपर्णा यादव का नाम नहीं है न ही लखनऊ कैंट से कोई भी प्रत्याकशी घोषित किया गया है.
पार्टी सूत्रों का दावा है की अखिलेश आज दूसरी लिस्ट जारी कर सकते है जिस लिस्ट से अपर्णा यादव का नाम न होने की पूरी संभावना है.सनद रहे अपर्णा भी लखनऊ की कैंट सीट से लड़ना नहीं चाहती जब अपर्णा को लखनऊ कैंट से टिकट दिया गया था, तो वो नाराज हो गईं थीं.अपर्णा यादव की मंशा सेफ सीट से चुनाव लड़ने की है किन्तु मुलायम ने अपर्णा को कैंट से प्रत्याशी घोषित कर दिया था .इसके बाद से ही अपर्णा नाखुश थीं, लेकिन फिर समर्थकों और खुद मुलायम के समझाने पर वे लखनऊ कैंट से लड़ने को तैयार हुईं थीं.

अखिलेश कर सकते है बगावत ,समर्थक प्रत्याशियो की नई लिस्ट जारी
सपा नेतावो और समर्थको की निगाहे आज अखिलेश यादव की उस दूसरी लिस्ट पर है जो कल कहा गया था कि बाकी सीटो के प्रत्याशीयो की शुक्रवार को जारी होगी ,आज अखिलेश यादव लिस्ट जारी कर अगर अपर्णा की सीट से किसी अन्य को प्रत्याशी घोषित करते है तो पार्टी के साथ –साथ परिवार की जंग अंतिम मुहाने पर होगी और प्रदेश में एक नया राजनैतिक दल जन्म लेना प्रारंभ कर देगा.
बिहार के गांव किसी भी तरह से शहर से पीछे नहीं रहेंगे-नीतीश



इसे भी पढ़े -