You are here

अखिलेश ने किया कुर्मी समाज का अपमान-मायावती

लखनऊ .बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि सूबे में बसपा की सरकार बनने पर अमेठी का नाम दोबारा बदल छत्रपतिसाहूजी महाराज नगर रखा जाएगा.सुल्तानपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि छत्रपतिशाहूजी महाराज कुर्मी थे उनके सम्मान में हम अमेठी का नाम फिर से बदलकर छत्रपतिसाहूजी महाराज रखेंगे. बसपा शासनकाल के दौरान अमेठी का नाम बदलकर छत्रपतिशाहूजी महाराज रखा था वहीं 2012 में सत्ता में काबिज समाजवादी पार्टी ने अमेठी का नाम छत्रपतिसाहू जी महाराज से बदलकर अमेठी रख दिया था.

इससे पहले 2 फरवरी को हाथरस की चुनावी रैली में भी मायावती ने हाथरस का नाम बदलने की बात कह चुकी हैं. बसपा सुप्रीमों ने अपने शासनकाल में हाथरस जिले का नाम बदलकर महामाया नगर रखा था, लेकिन 2012 में अखिलेश सरकार ने जिले का नाम महामाया से बदलकर फिर हाथरस रख दिया था. मायावती ने 1997 में सत्ता में आने के बाद हाथरस को जिले का दर्जा दिलाया और उसका नाम महामायानगर रखा था.

इन दो जिलों के अलावा अखिलेश सरकार ने मायावती के द्वारा दिए गए कई जिलों के नाम बदले हैं.इससे पहले मायावती ने अमरोहा जिले का नाम ज्योतिबाफुले नगर रखा था लेकिन सपा सरकार उसे बदलकर अमरोहा कर दिया. मायावती ने कासगंज का नाम बदलकर कांशी राम नगर रखा था लेकिन सूबे की मौजूदा अखिलेश सरकार ने उसे फिर से कासगंज कर दिया वहीं बसपा शासन में कानपुर देहात जिले का नाम रमाबाई नगर रखा गया लेकिन सपा सरकार ने उसे फिर बदलकर कानपुर देहात कर दिया.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और जी प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -