You are here

अजान और भजन से मन को शांति मिलती है – विनय कटियार

कानपुर.भाजपा के फायर ब्रांड नेता सांसद विनय कटियार ने पार्श्व गायक सोनू निगम के ट्वीट की निंदा की है. कटियार ने कहा कि सुबह की अजान और भजन से मन को सकून मिलता है. सोनू निगम देर से सोते होंगे तो सुबह उनको दिक्कत हो रही होगी.

सोनू निगम ने कहा था कि मैं मुसलमान नहीं हूं, फिर मुझे हर रोज सुबह अजान क्यों सुनाई जाती है. वो अजान में लाउडस्पीकर के उपयोग का विरोध कर रहे हैं. सोशल मीडिया पर इस मामले में देश दो हिस्सों में बंटा हुआ है.
सोनू का फिर ट्वीट, मंदिर-मस्जिद से हटाओ लाउडस्पीकर

सांसद विनय कटियार निजी कार्यक्रम में भाग लेने कानपुर पहुंचे थे जहां उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुये कहा कि मन्दिर हो या मस्जिद या फिर गुरूद्वारा हो सुबह की प्रार्थना अगर हो तो अच्छा कदम है लेकिन ये भी बात सही है कि उसकी कोई सीमा होनी चाहिये बजने के समय की भी सीमा होनी चाहिये. लाउड स्पीकर छोटे होने चाहिये, जिससे परिसर के अन्दर ही उसकी आवाज रहे बाहर उसकी आवाज ना जाये. उन्होंने कहा कि एक तरह से यह अच्छा भी है जो आवाज कानों तक जाती है उससे लोग जगते है और सुबह-सुबह प्रभु का नाम कानों तक जाता है. जो लोग लेट सोते है उनको दिक्कत है.
योगी सरकार : 41 IAS का स्थानान्तरण

राम मन्दिर मुद्दे पर बोलते हुए कटियार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में केस है बातचीत से भी हल निकाल जा रहा है. जल्द ही समस्या का हल निकलेगा लेकिन ये बात सच है कि वार्ता से समस्या का हल निकलता नजर नहीं आ रहा है. उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने स्वीकार्य किया है कि ये राम मन्दिर की जमीन है. कोर्ट ने जमीन को तीन हिस्सों में बाटा है दो हिस्से हिन्दू और एक हिस्सा मुस्लिम, समय आ गया है जो समय और आने वाला है वो भी आ रहा है जल्द ही कोई निष्कर्ष निकलेगा.
बीफ पर दोगली नीति अपना रही भाजपा – जावेद जाफरी

तीन तलाक के मुद्दे पर बोलते हुए विनय कटियार ने कहा कि हमने ही सबसे पहले तीन तलाक का मुद्दा उठाया था लोग हंसते थे. आज मुस्लिम महिलायें समर्थन मे आ रही हैं मुख्यमंत्री से मिल रही है, प्रधानमंत्री से मिल रही हैं. तीन तलाक कुप्रथा है हमारे देश में ही ये ज्यादा प्रचलित है दूसरे देशों में तीन तलाक कम है, भारत में ये बन्द होना चाहिये महिलाओं के साथ ये अत्याचार है.

पश्चिम बंगाल में हनुमान जयंती को लेकर उन्होंने कहा कि ममता बेनर्जी की ये तुष्टीकरण की नीति है ये ज्यादा दिन नहीं चलने वाली है चिन्ता न करो अगली सरकार में ममता भी बदल जायेगी और जब बदल जायेगी तो सब जयंती भी होगी और सब धर्मों का पाठ भी होगा.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -