You are here

गर्भवती महिला ने सड़क पर दिया बच्ची को जन्म

बलरामपुर. यूपी में एक बार फिर डॉक्टरों की संवेदनहीनता का नजारा देखने को मिला। प्रसव पीड़ा से तड़प रही एक महिला को डॉक्टर ने बिना चेकअप किए ही बच्चा उल्टा होने की बात कह कर सीएचसी से रेफर कर दिया। पर‍िजन गुहार लगाते रहे,लेक‍िन डॉक्टरों ने उनकी एक न सुनी। ऐसे में हॉस्प‍िटल के बाहर न‍िकलते ही महिला ने सड़क पर बच्ची को जन्म दिया।
मामला बलरामपुर के ललिया थानाक्षेत्र का है।यहां गांव फुलवरिया मशमूले वलीपुरवा की रहने वाली संगीता यादव पत्नी दिनेश यादव प्रसव पीड़ा से ग्रस्त थी और प्रसव के लिए सीएचसी शिवपुरा आई हुई थी।
लेकिन अस्पताल में तैनात डॉक्टर ने बिना किसी जांच के उसे रेफर कर दिया।पीड़िता के परिजनों के मान-मनौव्वल के बावजूद अस्पताल में तैनात डॉक्टर ने पीड़िता का कोई भी इलाज नहीं किया।इसके बाद पीड़िता अस्पताल से निकलकर सड़क पर पहुंची थी क‍ि सड़क पर ग‍िरकर दर्द से कराहने लगी।उसे सड़क पर तड़पता देख महिलाओं ने सड़क पर ही अपने कपड़ों से घेरकर उसका प्रसव कराया। जिसके बाद उसने एक लड़की को जन्म दिया।घटना की जानकारी सामुदाय‍िक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों और कर्मचार‍ियों को दी गई,इसके बावजूद भी कोई भी डॉक्टर या कर्मचारी पीड़िता की सुध लेने मौके तक नहीं गया।पीड़िता के परिजनों की माने तो उसकी हालत अभी भी नाजुक है,लेक‍िन यहां बिना पैसे दिए कोई काम नहीं होता है।मामले पर पीड़िता ने सीएचसी अधीक्षक शिवपुरा को आरोपी डॉक्टर के विरुद्ध लिखित शिकायत देकर कड़ी कारवाई करने की मांग की है।
सीएचसी अधीक्षक ने रटा-रटाया जवाब देते हुए मामले की जांच कर कारवाई करने का आश्वासन परिजनों को दिया है।
रिपोर्ट-फरीद आरजू

इसे भी पढ़े -