You are here

बसों में छापा मार व्यवस्था सुधारने में जुटे परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह

लखनऊ .सूबे के परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह भाजपा में अपने तेजतर्रार कार्यो के लिए जाने जाते है ,योगी सरकार ने जब से परिवहन विभाग की जिम्मेदारी इनके कंधे पर डाली है परिवहन विभाग के हरामखोर कामचोर अफसरों के कान खड़े हो गए है .परिवहन विभाग में यात्रियों की सुख सुबिधाओ पर नए परिवहन मंत्री का ध्यान है और उन्होंने बिभाग के अधिकारियों को सुधर जाने की चेतावनी के साथ खुद रात -बिरात बसों में छापा मार पद्दति का इस्तेमाल कर रहे है .

परिवहन विभाग की जिम्मेदारी के बाद से ही मंत्री स्वतंत्र देव सिंह लगातार रात में जब लोग अरमान फरमाते है उस वक्त स्वतंत्र देव सिंह किसी हाईबे पर लाव लश्कर के साथ खड़े होकर परिवहन विभाग की बस के आने का इन्तजार करते है ,बस नजदीक आते ही रुकवाकर बस में साफ़ सफाई से लेकर परिचालक और ड्राइवर के व्यवहार को लेकर यात्रियों से बात चीत कर कमिया सामने आने पर विभागीय कर्मचारियों को सुधरने की चेतावनी देकर पुनः अगली बस का इन्तजार करते है .

मंत्री स्वतंत्र देव सिर्फ छापमारी कर फटकार लगाने का ही काम नहीं कर रहे बल्कि राज्य में जनता के सेवाओं का भी भरपूर खयाल रख रहे हैं.
ताजा मामला देखने को मिला बुधवार को जब परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह रायबरेली जा रही रोडवेज बस को हाईवे पर रोककर जांच करते हुए यात्रियों का फीडबैक भी लिया. इस दौरान बस में सीट नहीं मिलने की वजह से एक महिला खड़ी थी. मंत्री ने फौरन खड़ी महिला को सीट दिलाई. जांच के दौरान महिलाओं ने चालक – परिचालक के अभद्र व्यवहार की उनसे शिकायत की है.

पता चला कानपुर से रायबरेली के लिए किदवई नगर डिपो की रोडवेज बस 61 यात्रियों को लेकर जा रही थी. आजाद मार्ग में परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह के काफिले ने बस को ओवरटेक करने के बाद रोक लिया. बस रुकते ही स्वतंत्र देव बस पर चढ़ गए और बस को जांचा.

इस दौरान एक महिला सीट नहीं मिलने पर खड़ी थी जिसे सीट दिलाई. सभी यात्रियों के टिकट बने पाए गए. बस में बैठी महिलाओं ने परिचालक के अभद्र व्यवहार करने की शिकायत की है.इस बस को जांचने के बाद मंत्री का काफिला आगे बढ़ गया.

आरएम नीरज सक्सेना के अनुसार मंत्री जी ने चालक-परिचालकों का व्यवहार सुधारने के लिए हिदायत दी है. इसके लिए जल्द ही एक कार्यशाला कराने के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. जिसमें चालक परिचालाको को यात्रियों से अच्छा व्यवहार करने के लिए प्रेरित किया जाएगा.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -