You are here

भाजपा के लिए मुसीबत बनेगा हिन्दू राष्ट्रवादी गठबंधन




लखनऊ .उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अखिल भारत हिन्दू महासभा समेत कई हिंदूवादी संगठन एक साथ मिलकर ताल ठोकेंगे जो भाजपा के लिए मुसीबत का सबब भी बन सकता है .

मुलायम को चित्त कर अखिलेश ने किया साईकिल पर कब्ज़ा
जनसंघ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयेन्द्र सिंह और हिन्दू महासभा के वरिष्ठ नेता मुन्ना कुमार शर्मा ने कहा कि अखिल भारत हिन्दू महासभा, जनसंघ पार्टी, शिवसेना हिन्दुस्तान, प्रजाशक्ति पार्टी, किसान विकास पार्टी, भारतीय हिन्द फौज, हिन्दू रक्षक दल और ओजस्वी पार्टी विधानसभा चुनाव 2017 एक साथ मिलकर लड़ेंगी.

भाजपा ने जारी किया 149 प्रत्याशियों की पहली सूची
दोनों नेताओं ने बताया कि इन सभी दलों ने मिलकर हिन्दू राष्ट्रवादी गठबंधन का गठन किया है और इस गठबंधन के तहत दो सौ प्रत्याशी उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनावी समर में ताल ठोंकेगे. नेताओं ने बताया कि इस गठबंधन का मुख्य उद्देश्य हिन्दू हिन्दी हिन्दुस्तान का विकास, देश में हिन्दुओं के हितों की रक्षा एवं भारतीय संस्कृति व हिन्दू आस्था का संरक्षण व संवर्धन, अयोध्या में भगवान राम के जन्मस्थान पर मन्दिर का निर्माण है.

इमाम का ऐलान- नेताओ के लिए मस्जिद के दरवाजे बंद
उन्होंने कहा कि गठबधंन देश में समान नागरिक कानून बनाने, गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने, गौ संरक्षण व संवर्धन, राष्ट्रविरोधी शक्तियों का सर्वनाश, राष्ट्रीय हितों की रक्षा, आतंकवादी को समाप्त करने आदि कई मुद्दों पर चुनाव लड़ेगा. इसके अलावा गठबंधन भाजपा, सपा बसपा आदि दलों द्वारा जनता से वादाखिलाफी करने व भ्रष्टाचार, जातिवाद भाई भतीजावाद करने का भी पदार्फाश करेगा.
कट्टर हिंदूवादी संगठनों के संयुक्त गठबंधन के चुनाव लड़ने से कट्टर हिदुवादी वोट बैंक में सेंध से कही न कही भाजपा को नुकसान का सामना करना पड़ेगा.

loading…

इसे भी पढ़े -