You are here

मुख्यमंत्री योगी के स्वछता अभियान को ठेंगा दिखा रहा पुलिस मुख्यालय उन्नाव

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंन्त्री योगी आदित्य नाथ जी के सरकारी कार्यालय को साफ़ सुथरा रखने व् कोई गन्दगी न फ़ैलाने के आदेश को लेकर उन्नाव में आज s रियलटी टेस्ट किया तो उन्नाव के पुलिस अद्धिक्षक का कर्यालय का नजारा कुछ और ही था यह जगह जगह पर कूड़ा करकट का ढेर दिखाई पुलिस कार्यालय में बने कमरो के हर जगह कूड़ा करकट,पान मसाला खा कर थूका हुआ दिखाई दिया पुलिस कार्यालय में किंगफिशर बियर के खली केन दिखे इंडिया टीवी के कैमरे में कर्यालय की चौखट में सिगरेट के जले फ़िल्टर को पुलिस अपने कार्यलय से कैमरे को देखते जुतो से झाड़ते नजर आये।किसी सरकारी कार्यालय में बाबुओं के थूकदान मिले तो कहि परिसर में लोग पेसाब करते नजर आये
तो कही मुख्यमंन्त्री जी के आदेश का ठीकरा दूसरे विभागों को मढ़ते हुए नजर आये।

उन्नाव .उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ोकार्यभार सँभालने के बाद से ही सरकारी बिभागो में सफाई को लेकर गंभीर है . उन्नाव के पुलिस अधीक्षक का मुख्यालय पर मुख्यमंत्री के आदेशो को कोई अशर नहीं है.जिसके कारण पुलिस मुख्यालय उन्नाव में फैली गन्दगी , कुडा- कर्कट , पान मसालों की पीक बीयर की खली केन(बॉटल) पुलिस कार्यालय के कई रंग बया कर रहे है. मुख्यामंत्री योगी के आदेशो की सरकारी कार्यालय की सफाई अभियान पोल खोल रही है.

इस पर जब हमारे संबाददाता ने पुलिस अधीक्षक नेहा पांडेय से बात की तो उन्होंने गन्दगी फैलाने की शपथ अपने मातहतो को साफ सफाई रखने के आदेश की बात कही व गन्दगी फ़ैलाने वालो कर्मचारियों को लेकर दंड देने की बात कहते हुए परिसर में पड़ी शराब की बोतलों को लेकर अपर पुलिस अधीक्षक को जांच के आदेश की बात कह पल्ला झाड़ने लगी . अब सवाल ये है कि उन्नाव की पुलिस कार्यालय में शराब की बोतलें कहा से कैसे आयी. मुख्यमंन्त्री के आदेश की पड़ताल जिले के अलग- अलग कार्यालय में किया गया तो मुख्यमंत्री के आदेशो का खौफ कही देखने को नहीं मिला .

जिला अधिकारी कार्यालय में जगह जगह गंदगी देखने को मिली जिला परिसर के छज्जो में पान मसाले के थूके गये है, मानो सालो से थूका जा रहा हो.वहा भी अधिकारी नदारत मिले वही परिसर की दीवारों में थूकना सख्त मना है इसकी हिदायत लिखी थी लेकिन कलेक्टर का परिसर का नजारा कुछ और ही मिला.

उन्नाव के उपनिबंधन कार्यलय में भी गन्दगी का अम्बार दिखाई दिया जब हमारा कैमरा रजिस्टार परिसर में बैठे कर्मचारी की कुर्सी के पास पहुचा तो नज़ारा कुछ और ही था जहाँ महोदय ने अपनी कुर्सी के पास थूक दान बना रखा था. मुख्यमंन्त्री योगी जी के आदेश की बात को पूछने पर साहब ने उस थूकदान को जनता के लिए रखा होने की बात करने लगे जबकि थूकदान उनकी कुर्सी के ठीक नीचे पास में रखा हुआ था.

उपनिबंधन कार्यालय के मुख्य अधिकारी सिद्धार्त कुमार ने परिसर फैली गंदगी को साफ़ न होने के बावत गन्दगी का ठीकरा नगर पालिका पर मढ़ दिया.उन्होंने कार्यालय में जनता हेतु थूकदान न होने की बात कहते हुए अपने कर्मचारी की झूठ का खुलासा कर दिया. निबंधन अधिकारी परिसर में गन्दगी को लेकर कुछ न बोले पर शासन के आदेश की दुहाई देते हुये शासनदेश देखने बात कह कर कार्यालय से रफुचकर होगये.

जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय में भी गन्दगी का अम्बार दिखा जहाँ परिसर के अंदर एक महोदय लघुशंका करते नजर आये पूछने पर मुख्यमंत्री के आदेश की जानकारी है ,कैमरे पर गलती मानने लगे, दोबारा न गंदगी न फ़ैलाने की बात कह माफ़ी मांगने लगे.

फिरहाल उन्नाव में मुख्यमंत्री के आदेशो की अवहेलना हो रही है ,अधिकारियो कर्मचारियों का मानना है कि सत्ता बदलते ही कुछ दिन यह सब चलेगा फिर सामान्य हो जायेगा .

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -

Leave a Comment