You are here

शराबबंदी : योगी सरकार ने धार्मिक स्थलों के पास बिक्री पर लगाई रोक

लखनऊ .उत्तर प्रदेश में शराब बंदी को लेकर लगातार महिलाओं के हमले और विरोध प्रदर्शन हो रहे है , इस बीच योगी सरकार ने एक अहम फैसला लेते हुए प्रदेश के सभी धार्मिक स्थलों के पास शराब बिक्री पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाते हुए आबकारी विभाग को नई शराब नीति बनाने के भी निर्देश दे दिए हैं.

भाजपा विधायक की गुंडागर्दी ,टोल टैक्स मागने पर टोल कर्मी को पीटा

सुप्रीम कोर्ट द्वारा राष्ट्रीय राजमार्गों से शराब की दुकानें हटाने के निर्णय के बाद योगी सरकार का यह नया आदेश आया है. इस कदम को यूपी में भविष्य में शराबबंदी से भी जोड़कर देखा जा रहा है. राज्य सरकार के अनुसार उत्तर प्रदेश में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद करीब 8,544 शराब की दुकानें स्थानांतरित कर दी गई हैं.

काला कुबेर : उप्र के इंजीनियर के पास मिली 600 करोड़ की संपत्ति

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियो को निर्देशित किया है कि कि मा0 उच्चतम न्यायालय द्वारा पारित आदेशों के अनुपालन में प्रभावित 8,544 आबकारी दुकानों को शहर के बस्ती, शैक्षणिक संस्थान, धार्मिक स्थलों एवं चिकित्सालयों से निर्धारित दूरी पर ही प्रतिस्थापित कराया जाए.

योगी के मंत्री का बोल : लूले-लंगड़े लोगों को संविदा पर रखा है, ये क्या सफाई कर पायेगा

शास्त्री भवन में आयोजित आबकारी विभाग के प्रस्तुतिकरण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कि वृन्दावन, अयोध्या, चित्रकूटधाम, मिश्रिख नैमिषारण्य, पीरान कलियर, देवा शरीफ और देवबन्द के धार्मिक स्थलों में पूर्ण मद्यनिषेध का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित न होने पर सम्बन्धित लापरवाह अधिकारियों को चिन्हित कर दंडित किया जाए.



काशी विश्वनाथ मन्दिर, वाराणसी, श्री कृष्ण जन्म स्थल, मथुरा एवं इलाहाबाद में संगम परिधि के चारों ओर एक किलोमीटर की परिधि के अन्तर्गत शराब की बिक्री पर लागू प्रतिबन्ध का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित हो.
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -