You are here

भगवा चोले में छिपा हबस का पुजारी ,साध्वी के साथ जबरदस्ती करता रहा बलात्कार

लखनऊ .धर्म और भगवाचोले की आड़ में महिलाओं की इज़्ज़त के लुटेरे खुले आम अपनी यौन पीपाशा को शांत करने हेतु महिलाओं व यूतियो को शिकार बना रहे है ,विरोध करने पर परिजनों सहित इनको जान से मारने की धमकियाँ दी जाती हैं,आशाराम बापू ,राम रहीम समेत धर्म की आड़ में छिपे हबस के दरिंदो के बेनक़ाब होने के बाद बस्ती जनपद से भी एक धार्मिक चोले में छिपे बहुरूपिये का भंडा फोड़ हुआ है .जो विगत कई वर्षों से आश्रम के ही दो महिलाओं के साथ ज़बरदस्ती संबंध बनाकर अपनी यौन पीपाशा को शांत करता था ,जिसकी मदद आश्रम की ही दो महिलायें भी कर रही थी .

प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ अनेको राज्यों में फैले सत्यलोक आश्रम रिलीजियस ट्रस्‍ट के स्‍वामी सच्चिदानंद उर्फ दयानंद पर आश्रम की ही दो महिलाओं ने लंबे समय से लगातार बलात्‍कार करते रहने का आरोप लगाया है.स्‍वामी सच्चिदानंद के कुकर्मों का ख़ुलासा करते हुए पीडि़ताओं ने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की मांग किया है.प्रार्थना पत्र में लगाए गए आरोप के अनुसार पीडि़ताएं छत्‍तीसगढ़ की रहने वाली हैं और साध्‍वी के रूप में ट्रस्‍ट में रहती हैं .इस ट्रस्‍ट का आश्रम पूरे भारतवर्ष में है.

बस्‍ती में ट्रस्‍ट का आश्रम संचालित करने वाले स्‍वामी सच्चिदानंद उर्फ दयानंद अपने साथियों परमचेतानंद, विश्वासानंद, ज्ञान वैराग्‍यानंद के साथ पीडि़ताओं के साथ लगातार बलात्‍कार कर रहे हैं.जब पीडिताओ विरोध की जुर्रत की तो उन्‍हें पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई .

पीडि़ताओं ने यह भी आरोप लगाया कि उनके साथ बलात्‍कार करने में उक्‍त लोगों की मदद आश्रम की ही दो अन्‍य महिलाएं प्रमिला बाई और कमला बाई करती हैं. उन्‍होंने बताया कि दयानंद का आपराधिक इतिहास भी है.पीडि़ताओं ने बस्ती पुलिस अधीक्षक से जांच कर कार्रवाई की मांग की है. मामले पर पुलिस के सक्षम अधिकारी का कहना है कि प्रार्थना पत्र मिल गया है. आरोपों की जांच शुरू कर दी गई है .दोषियों को विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी.
न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -

Leave a Comment