You are here

उन्नाव: बीघापुर के पौराणिक माँ संदोही देवी मंदिर परिसर की भूमि का कमीशन ने किया न्यायालय के आदेश पर निरीक्षण

? कुछ दिन पहले मंदिर परिसर की भूमि को दबंगों बेच डाला था
? मंदिर की संरक्षण समिति ने कर रखा है दीवानी न्यायालय में मुकदमा

बीघापुर,उन्नाव। कस्बा स्थित प्रसिद्ध पौराणिक सिद्धपीठ माँ सन्दोही देवी मंदिर के सामने पड़ी मंदिर परिसर की खाली भूमि का विवाद मामननीय दीवानी न्यायालय में लम्बित होने के कारण माननीय दीवानी द्वारा नियुक्त कमीशन अनिल चौधरी ने शनिवार को मंदिर परिसर में पहुंच कर कमीशन कार्य किया तथा मौके का निरीक्षण व नाप जोख की।




उक्त मौके पर मौजूद सैकड़ों लोगों की भीड़ मंदिर परिसर मेें उपस्थित रही। साइड प्लान कमीषन ने मंदिर के पुजारी तथा कस्बे के कई अन्य बुजुर्गों के मौके पर बयान भी दर्ज किए।




ज्ञात हो कि उक्त मंदिर का निर्माण विक्रमी संवत 1026 के आस पास का बताया जाता है।लगभग एक हजार पचास वर्ष से भी पुराना यह पौराणिक मंदिर अंग्रेजी शासन काल में क्रांतिकारियों का अड्डा भी रहा है इसके भी प्रमाण मिलते हैं।मंदिर का उल्लेख प्राचीन आल्हा खण्ड में भी मिलता है।यहां पर मंदिर के सामने पड़ी मंदिर परिसर की खाली भूमि पर प्रतिवर्ष चैत्र पक्ष की शीतला अष्टमी,नवमी,दशमी को विषाल ऐतिहासिक मेला वर्शों से लगता चला आ रहा है तथा चैत्र पक्ष के नवरात्रों में दुर्गाजगारण,मेला व साथ-साथ साहित्यिक, सांस्कृतिक,धार्मिक व सामाजिक कार्य भी इसी भूमि पर सैकड़ों वर्षों से होते चले आ रहे हैं।इसी भूमि पर कुछ लोगों द्वारा भवन निर्माण करने के प्रयास पर मंदिर संमिति द्वारा मुकदमा दीवानी न्यायलय में दायर किया गया है।

रिपोर्ट: डॉ.मान सिंह
खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -