You are here

उन्नाव:शातिर लुटेरे चढ़े पुलिस के हत्थे

बीघापुर,उन्नाव। थाना पुलिस ने लूट के तीन वांछित आरोपियों को बीघापुर रेलवे स्टेशन के खण्डहरों से गिरफ्तार करना दिखा कर उनके पास से एक मोटरसाइकिल, कट्टा आदि बरामद करना दिखा कर जेल भेज दिया है।वहीं एक अपराधी फरार होने में सफल रहा।




पुलिस के अनुसार मुकदमा सं. 268/17 धारा 394/411 आईपीसी, मु.सं. 270/17 धारा 401 आईपीसी, मु.सं. 271/17 धारा 3/25 ए एक्ट जो थाना बीघापुर में दर्ज थे।इन मामलों में सनी उर्फ सुनील पुत्र मुनेष्वर उम्र 26 वर्श, धर्मू उर्फ धर्मेन्द्र पुत्र स्व0 मुनेष्वर सिंह उम्र 32 वर्श , संजय उर्फ बबलू पासी पुत्र भगवानदीन पासी उम्र 42 वर्श, प्रमोद पुत्र स्व0 चन्नी रैदास उम्र 30 वर्श सभी थाना क्षेत्र के ओसियां गांव के निवासी हैं,वांछित थे।




पुलिस के अनुसार ये चारों अपराधी बीघापुर रेलवे स्टेषन के पास खण्डहर मकान में छिपे थे जहां पर बाहर एक मोटरसाइकिल भी दिखाई दी कुछ आवाजें भी सुनाई दीं।पुलिस ने दबिस दी तो खण्डहरों में तीन को मौके पर ही पकड़ लिया और एक मौके से फरार हो गया।जिसमें सनी उर्फ सुनील के पास से 315 बोर को तमंचा दो जिंदा कारतूस तथा पूर्व में लूट का 1500रु0 बरामद हुआ,धर्मू के पास से पूर्व के लूट के 1100रु0 तथा संजय के पास से 1200 रु0 बरामद हुए। भागे हुए बादमाष प्रमोद जो बजाज की मोटरसाइकिल बजरंग लाल यूपी32 एए 3684 छोड़ भागा जिसे पुलिस ने बरामद कर ली, जिसका प्रयोग वह लूट की घटनाओं में करता था।सनी ने बताया कि इसके पहले भी वह फरवरी माह में मगरायर गांव के आगे डबल पुलिया के पास लूट की थी जिसमें 10000रु0 लूटे थे।




उस घटना में बैरागी नामक बदमाश इनके साथ था,धर्मू इसके पूर्व भी 3/25 आम्र्स एक्ट में गिरफ्तार किया जा चुका है।यह सभी शातिर लुटेरे हैं जो रेलवे स्टेषन के पास यात्रियों को लूटने की फिराक में रहते थे।इन अपराधियों को गिरफ्तार करने में एसआई अवधेश कुमार,एसआई कामता प्रसाद सिंह, कान्स्टेबल बिनोद कुमार, राम राज शुक्ला, गोविन्द आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। क्षेत्राधिकारी रामकृष्ण चतुर्वेदी ने बताया कि अपराधियों को अदालत से रिमाण्ड पर लेकर पूंछतांछ की जाएगी।

रिपोर्ट:डॉ.मान सिंह

खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -