You are here

बिहार : पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी को मिली लालू की राजनीतिक विरासत

पटना .राजद मुखिया लालू प्रसाद यादव के परिवार में राजनितिक विरासत सँभालने के मुद्दे पर शुक्रवार को विराम लग गया .राजद मुखिया लालू ने अपने छोटे बेटे को राजनीतिक विरासत सौंपने का ऐलान कर दिया है. पूर्व सीएम लालू यादव ने इशारा किया है कि बिहार में अगला विधानसभा चुनाव उनके बेटे तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ा जाएगा जो 2020 में होने वाले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार भी होंगे ..

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक लालू यादव ने यह बात ऐसे वक्त में कही है जब उनकी ही पार्टी के वरिष्ठ सदस्य अब्दुल बारी सिद्दीकी और रघुवंश प्रसाद ने कहा कि अगले चुनाव में पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है. 9 नवंबर को ही 28 साल के हुए तेजस्वी बिहार विधानसभा में नेता विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं.

पटना में लालू यादव ने पत्रकारों से बातचीत में बेटे तेजस्वी के काम की तारीफ करते हुए कहा कि तेजस्वी मेरे बेटे हैं, सिर्फ इसलिए उनकी इतनी तारीफ नहीं कर रहा हूं बल्कि तेजस्वी में गजब की राजनीतिक क्षमता है ,जिस पर मुझे खुशी है .वर्तमान समय युवाओं का है. टिकट से लेकर सभी जगहों पर युवाओं को आगे लाना होगा.

सनद रहे पूर्व में पूर्व राजद प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने भी तेजस्वी को क्षमतावान और ऊर्जावान बताते हुए कहा था कि वर्ष 2020 का विधानसभा चुनाव उन्हीं के नेतृत्व में लड़ा जाएगा. इसके बाद ही राजद के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने कहा था कि लालू प्रसाद की सलाह से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार पर फैसला लिया जाएगा.

न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -

Leave a Comment