You are here

धार्मिक CM योगी बोले : 40 साल से बच्चे इन्सेफ्लाइटिस से मर रहे, अब क्यों रोना ?

लखनऊ .उत्तर प्रदेश के धार्मिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बच्चो की मौत पर एक बिवादित वयान देकर राजनैतिक माहौल को गर्मा दिया है ,योगी के इस बयान के बाद से ही विपक्षी दल CM की बच्चो के मौत के प्रति नजरिए पर सवाल उठाया है .

शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक विवादित बयान देते हुए कहा कि राज्य में पिछले 40 साल से बच्चे इन्सेफ्लाइटिस की बीमारी से मर रहे हैं तो अब इस मुद्दे पर क्यों रोना रोया जा रहा है? मुख्यमंत्री योगी का यह बयान तब आया है जब महीने भर पहले ही उनके ही क्षेत्र गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में 60 से ज्यादा बच्चों की मौत एक महीने के अंदर हो गई थी ,आक्सीजन की कमी से हुई इस मौत पर मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री और प्रसासनिक अफसर तक पर्दा डालते रहे कि बच्चो की मौत आक्सीजन की कमी से नहीं हुई है ,किन्तु सरकारी जांच रिपोर्ट ने ही उत्तर प्रदेश सरकार की पोल खोल दिया था जांच समिति ने अपनी रिपोर्ट में माना कि इन बच्चों की मौत उनके वार्ड में ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं होने की वजह से हुई थी. ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी और ऑक्सीजन यूनिट के इंचार्ज डॉक्टर सतीश को इस लापरवाही के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था .जिलाधिकारी राजीव रौतेला ने भी अपनी जांच रिपोर्ट में ऑक्सीजन की सप्लाई ‘ब्रेक डाउन’ होने का जिक्र किया था .

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बच्चों की मौत पर अपनी सरकार की हो रही आलोचनाओं के जवाब में उपरोक्त बातें कहीं. उन्होंने कहा, “यह बात अब साबित हो चुकी है कि गोरखपुर के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत नहीं हुई है. वहां पिछले 40 साल से बच्चे इन्सेफ्लाइटिस से मर रहे हैं। लेकिन अब उस पर क्यों रोना रोया जा रहा है?

इसे भी पढ़े –

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




इसे भी पढ़े -