You are here

गोमांस के नाम पर हत्या के खिलाफ मुंबई की सड़कों पर उतरा जनसैलाब

नई दिल्ली .देश में गोहत्या ,गोमांश के शक में निर्दोशो की हत्या के विरुद्ध देश के कोने -कोने में आवाज उठ रही है ,यहाँ तक कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी तथाकथित गोरक्षको से इस प्रकार की हरकत न करने की अपील किया किन्तु तथाकथित गोरक्षको का आतंक अब भी सर चढ़ कर बोल रहा है .सोमवार को मध्य मुंबई के शिवाजी पार्क क्षेत्र में देश के विभिन्न शहरों में गोमांस के नाम पर भीड़ द्वारा की जा रही हत्या के खिलाफ हजारों लोग सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे थे . यह प्रदर्शन दलित नेता प्रकाश अंबेडकर, फिल्मी शख्सियत आंनद पटवर्धन और प्रकाश रेड्डी के नेतृत्व में हो रहा था .

योगीराज : माफिया ठाकुर विधायक राजा भैया की बहन हुई मनचलों की शिकार

मुंबई के दादर वीर कोतवाल गार्डन प्लाजा से दोपहर साढ़े चार बजे क्रन्तिकारी गीतों और अहम व्यक्तियों की भाषणों के बाद जुलूस दादर के बहुसंख्यक क्षेत्रों से होता हुआ, डॉ भीमराव अंबेडकर की यादगार चेतिया भूमि पहुंचा.



उक्त प्रदर्शन को संबोधित करते हुए प्रकाश अंबेडकर ने कहा कि कुछ वर्षों में अल्पसंख्यक समुदायों, दलितों और कमजोर लोगों को हिंसा का शिकार बनाने की वारदातों में लगातार वृद्धि हुई है. खास तौर पर गोहत्या के नाम पर निर्दोषों की सरेआम मौत के घाट उतारा जा रहा है जबकि सत्तापक्ष के लोक मूकदर्शक बने हुए हैं. इसलिए नफरत के खिलाफ न्याय की आवाज बुलंद करने के लिए यह विरोध किया जा रहा है.उन्होंने चेतावनी दी कि अगर सरकार ने भगवा ब्रिगेड को काबू में नहीं किया तो देश में हालात बद से बदतर हो जाएंगे. इस लिए समय रहते इस हिंसा पर काबू पा लिया जाए यह सरकार के हित में होगा .

तानाशाही : रिटायर्ड आईपीएस एस आर दारापुरी को प्रेस कांफ्रेंस से पुलिस ने उठाया

मराठी फिल्मकार आनंद पटवर्धन , रेड्डी व सलीम अलवारे ने कहा कि अन्याय के खिलाफ इस लड़ाई को आगे बढ़ाना है. इतनी बड़ी संख्या में लोगों को इकट्ठा होना इस बात का सबूत है कि देश में लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता की जड़ें मजबूत हैं.प्रदर्शन में मुस्लिम संगठन एसआईओ, आवजे निसवां सहित दर्जनों संघठनो ने भाग लिया.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -

One Thought to “गोमांस के नाम पर हत्या के खिलाफ मुंबई की सड़कों पर उतरा जनसैलाब”

Comments are closed.