You are here

ईमानदार पार्टी BJP को अज्ञात स्त्रोतों से मिला 461 करोड़ का चंदा

नई दिल्ली .देश में ईमानदार राजनीति का दंभ भरने वाली भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा दूसरी राजनीतिक पार्टियों को मिले चंदे को शक की नज़रों देखती है.प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी भ्रष्टाचार और पारदर्शिता की दुहाई देते नहीं थकते हैं वहीं जब बात भाजपा को मिले अज्ञात स्रोतों से पैसे की होती है, तो पार्टी चुप्पी साध लेती है.

इस खड़े सवाल के दौरान भाजपा नेताओं की सारी ईमानदारी भी छूमंतर हो जाती है. साल 2015-16 के दौरान भाजपा को अज्ञात स्रोतों से 461 करोड़ रुपये का चंदा मिला किन्तु भाजपा ने इसका खुलासा तक नहीं किया बल्कि दुसरे दलो को मिले चंदे पर भाजपा के ईमानदार नेताओ ने हमेशा प्रश्न चिन्ह खड़ा किया है .

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स यानी एडीआर ने हाल ही में राजनीतिक पार्टियों को मिले चंदे की रिपोर्ट पेश की है. यह रिपोर्ट 2015-16 में राजनीतिक पार्टियों के मिले अज्ञात स्रोतों के चंदे पर आधारित है. रिपोर्ट मे कहा गया है कि 2015-16 में अज्ञात स्रोतों के माध्यम से भाजपा को सबसे ज्यादा धन 461 करोड़ रुपये मिला. जो पार्टी आय का 81 फीसदी है.
अज्ञात स्रोतों के मिले चंदे के मामले में कांग्रेस दूसरे नंबर पर है. कांग्रेस को 2015-16 के दौरान 186 करोड़ रूपये अज्ञात स्रोतों के माध्यम से चंदे के रूप में मिले, जो पार्टी की आय का 71 फीसदी है.

एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में कहा साल 2015-16 के दौरान भाजपाऔर कांग्रेस दोनों पार्टियों को अज्ञात स्रोतों से 646.82 करोड़ रुपये मिले. जो दोनों राजनीतिक दलों की आय का 77 फीसदी से अधिक है.

[spu popup="10975"]YOUR TEXT OR IMG HERE[/spu]

सत्तारूढ़ भाजपा और कांग्रेस के स्वैच्छिक योगदान और कूपन बिक्री आय के प्रमुख साधन थे वहीं 2015-16 वित्त वर्ष के दौरान दोनों पार्टियों की आय 832.82 करोड़ रुपये थी. एडीआर एक गैर सरकारी संगठन है जो चुनाव सुधारों के काम के लिए जाना जाता है.

एडीआर ने कहा कि 2015-16 भाजपा की घोषित आय 570.86 करोड़ और कांग्रेस की 261.56 करोड़ रुपये थी. एडीआर ने चुनाव आयोग को दिए गए खर्च के आधार पर राजनीतिक दलों की आय का विश्लेशण किया है.

राजनीतिक दल अज्ञात स्रोतों से मिले बीस हजार रुपये से ऊपर रुपये की जानकारी देते हैं. अगर यह धन इससे अधिक है तो पार्टियों को चंदा देने वाले के नाम का खुलासा करना पड़ता है.

एडीआर के मुताबिक भाजपा ने ज्यादातर धन अज्ञात स्रोतों से इकट्ठा किया. वित्त वर्ष 2015-16 में भाजपा को 459.56 करोड़ रुपये मिले.सात राष्ट्रीय पार्टियों को अज्ञात स्रोतों से मिले चंदे में ईमानदार भाजपा सबसे आगे है.

भाजपा को 570.86 करोड़, कांग्रेस को 261.53 करोड़, सीपीएम को 107.48 करोड़, बसपा को 47.39 करोड़, तृणमूल कांग्रेस को 34.58 करोड़ एनसीपी को 9.14 करोड़, और सीपीआई को 2.18 करोड़ का चंदा वित्त वर्ष 2015-16 के दौरान ज्ञात और अज्ञात स्रोतों से मिला.

जिन भक्तों को खबर पर संदेह हो वो लिंक देखें-
http://www.hindustantimes.com/india-news/bjp-got-rs-461-cr-congress-received-rs-186-cr-from-unknown-sources-in-fy16-report/story-cajYLIICpbjX91QIfiuH7N.html

इसे भी पढ़े -

 

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading...


इसे भी पढ़े -

Leave a Comment