You are here

MP की राम राज्य सरकार में गैंग रेप की शिकार हुई 19 साल की छात्रा,लोगो ने माँगा गृह मंत्री का इस्तीफा

भोपाल .मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लाख दावा करें की महिलाओ की सुरक्षा के प्रति उनकी सरकार संबेदनशील है परन्तु सच यह है कि राजधानी भोपाल में ही महिलाए असुरक्षित है .ताजा जानकारी के अनुसार भोपाल में कोचिंग क्लास से लौटते वक़्त 19 साल की छात्रा से गैंगरेप की खबर मीडिया की सुर्खिया बन मुख्यमंत्री के महिलाओ की सुरक्षा के दावे की पोल खोल रही है .

जानकारी के मुताबिक 19 साल की छात्रा से गैंगरेप के चार आरोपियों को स्थानीय पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक़ हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पास चार लोगों ने लड़की को अगवा कर लिया. फिर एक पुलिया के नीचे ले गए और लड़की के साथ गैंगरेप किया.हबस बुझाने के बाद दरिन्दे लड़की को मरा हुआ समझ कर चारों वही छोड़ मौक़े से फ़रार हो गए.

बताया जा रहा है की गैंग रेप की शिकायत दर्ज करवाने गये छात्रा के परिजनों को घंटो तक मुख्यमंत्री शिवराज की पुलिस ने टरकाया किन्तु मामला बढ़ता देख मुकदमा दर्ज कर लिया . इस मामले में एक इंस्पेक्टर को निलंबित कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.गिरफ्तार एक आरोपी पर पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज हैं.

छात्रा के साथ हुए गैंगरेप से नाराज कांग्रेसियों ने शुक्रवार को हबीबगंज स्टेशन के GRP पुलिस थाने के बाहर जमकर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसियों ने सिर पर काली पट्टी बांध रखी थी. गुस्साए कांग्रेसियों ने थाने के मुख्य गेट पर ताला लगाने की कोशिश की और प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह से इस्तीफे की मांग किया .

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी शर्मा ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि प्रदेश सरकार एक ओर बेटियों को पढ़ाने और बढ़ाने की बात कहती है तो दूसरी ओर उनकी सुरक्षा को भगवान भरोसे छोड़ दिया है. इस घटना ने सिद्ध कर दिया है कि प्रदेश सरकार बेटियों की सुरक्षा के लिए गंभीर नहीं है. प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह से इस्तीफे की मांग किया है.

न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -