You are here

CM नीतीश कुमार पर संघी मानसिकता का आरोप लगा जदयू सांसद ने किया राज्य सभा से इस्तीफे की पेशकश

नई दिल्ली .निर्वाचन आयोग और दिल्ली हाईकोर्ट से जदयू पर दावे सम्बन्धी सांसद शरद यादव गुट झटका मिलने के बाद नई रणनीति पर काम कर रहा है .जनता दल यू में कार्यरत शरद समर्थक अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर संघी मानसिकता का गुलाम बनने सम्बन्धी आरोप लगाकर जनता दल यू से इस्तीफा देने की तैयारी कर रहे है .

जनता दल यूनाइटेड के केरल प्रदेश अध्यक्ष और राज्य सभा सांसद वीरेन्द्र कुमार ने सांसदी छोड़ने का एलान किया है,सांसद वीरेन्द्र कुमार शरद यादव के ख़ास सिपहसालार बताए जाते है .उन्होंने एलान किया कि वो संघी बन चुके पार्टी अध्यक्ष नीतीश कुमार के साथ एक पल भी रहना बर्दाश्त नहीं करेंगे.

उन्होंने मीडिया से कहा कि “मैंने राज्य सभा से इस्तीफा देने का फैसला किया है.मैं अब नीतीश कुमार के नेतृत्व में राज्य सभा सांसद बना रहना नहीं चाहता हूं क्योंकि उन्होंने संघ परिवार की सदस्यता ले ली है.हमने इस फैसले से नीतीश कुमार को अवगत करा दिया है.

वीरेन्द्र कुमार मार्च 2016 में ही राज्यसभा सांसद बने थे. करीब सवा चार साल अभी भी उनका कार्यकाल बचा हुआ है. उन्होंने साल 2014 में अपनी पार्टी सोशलिस्ट जनता (लोकतांत्रिक) पार्टी का विलय जनता दल यूनाइटेड में कर लिया था. इससे पहले साल 1999 से लेकर 2010 तक वो पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा की पार्टी जनता दल सेक्यूलर में थे. 1996 में जनता दल के टिकट पर लोकसभा चुनाव जीतने के बाद केंद्र की यूनाइटेड फ्रंट सरकार में मंत्री भी रहे .

न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -