You are here

एसिड अटैक पर CM योगी के बोल – देखना होगा कि सच में ऐसा हुआ या नहीं

लखनऊ .उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने रविवार को कथित तौर पर एक महिला द्वारा सामूहिक बलात्कार और एडिस हमले के आरोप पर संदेह व्यक्त करते हुए कहा, ‘घटना की जांच होनी चाहिए कि महिला पर वास्तव में कोई हमला हुआ है या नहीं।’

बता दें कि मुख्यमंत्री की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है जब राजधानी लखनऊ के अलीगंज में रहने वाली एक महिला ने आरोप लगाया कि उसके ऊपर दो अज्ञात लोगों ने तेजाब से हमला किया। इसपर सीएम योगी वाराणसी में एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि हमें यह देखने की जरूरत है कि क्या महिला पर सचमुच कोई हमला हुआ है।

इसे भी पढ़े -बिहार गठबंधन के विरोधियो की बोलती बंद , भाजपा हटाओ, देश बचाओ रैली में भाग लेंगे नीतीश

जांच चल रही है जल्द ही सबकुछ सामने आ जाएगा। मुझे लगता है कि आज देर शाम तक सारा सच सामने आ जाएगा कि महिला पर सचमुच कोई हमला हुआ है या नहीं। हमें पता चला है कि महिला पर छठी बार एसिड हमला किया गया है। कानून नागरिकों की सुरक्षा के लिए बनाए गए हैं। अगर कोई इनका गलत इस्तेमाल करता है तो उसे भी इसकी सजा दी जाएगी।



दूसरी तरफ पुलिस ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि महिला के दाईं तरफ चेहरे और कंधे पर तेजाब फेंका गया है। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रांमा सेंटर में महिला का इलाज किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार पूर्व में भी महिला को बलात्कार और एसिड अटैक की धमकी दी जाती रही हैं, जिसे देखते हुए महिला की सुरक्षा में हथियारबंद पुलिस कांस्टेबल संदीप सिंह को तैनात किया गया था।

इसे भी पढ़े -पिछड़े जाति के मंत्री ने दी CM योगी को चेतावनी ,DM को हटाओ वरना इस्तीफा देकर सरकार के खिलाफ दूंगा धरना

वहीं महिला का आरोप कि साल 2008 में भी दो व्यक्तियों ने उसके साथ बलात्कार किया था। वहीं घटना के बाद रायबरेली पुलिस ने दो आरोपी भोंदू सिंह गुड्डू सिंह को हिरासत में लिया था हालांकि उन्हें बाद में जमानत पर रिहा कर दिया। महिला के अनुसार साल 2011 में भी उसपर तेजाब से हमला किया गया था। हालांकि बाद में सुप्रीम कोर्ट ने तेजाब की सार्वजनिक बिक्री पर रोक लगा दी।



वहीं ताजा घटना के बारे में जानकारी देते हुए अलीगंज के सर्किल ऑफिसर विवेक त्रिपाठी ने कहा, ‘बीती रविवार रात को महिला पर कथित तौर पर तेजाब से हमला किया गया। आरोपियों ने हॉस्टल की दीवार पर चढ़कर महिला के ऊपर के तेजाब फेंक दिया। वीडियो फुटेज की मदद से आरोपियों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है।’ बता दें कि महिला लखनऊ में की निजी संस्था में काम करती है जोकि एसिट अटैक सरवाइवर्स द्वारा चलाई जाती है। सूत्रों के अनुसार महिला के पति और दो बच्चे राय बरेली में रहते हैं।

श्रोत -जनसत्ता

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -

One Thought to “एसिड अटैक पर CM योगी के बोल – देखना होगा कि सच में ऐसा हुआ या नहीं”

Comments are closed.