You are here

उन्नाव : दिनदहाड़े युवक की धारदार हथियार से हत्या

शहर के भरी आबादी वाले इलाके में दिन में हुई युवक की हत्या.
घटनास्थल पर वारदात के 1:30 घण्टे बाद पहुँची पुलिस.

उन्नाव. शहर में बेखौफ अपराधियों नें एक बार फिर दिन दहाड़े युवक को धारदार हथियार सें निर्मम हत्या कर पुलिस व कानून व्यवस्था के लिये चुनौती दे डाली.

सदर कोतवाली झेत्र अन्तर्गत पूरन नगर स्थित काली मंदिर के पास किराये का कमरा लेकर अपनी चचेरी बहन व उसके पिता के साथबीते 10 वर्षों से सुधीर 40 पुत्र मोती लाल पासी निवासी हमीरपुर हसनगंज को अज्ञात लोगों नें मौत के घाट उतार दिया, घटना के समय सुधीर घर पर अकेला था तथा उसकी चचेरी बहन व रिस्तेदार दवा लेनें अस्पताल गये हुऐ थे. दवा लेकर लीलावती जैसे ही घर पहुँची तो कमरें के बाहर बराम्दे में सुधीर की खून से सनी लाश देखकर भयभीत हो जोर जोर से चिल्लानें लगी, चीखपुकार सुनकर आसपास के घर के अंदर पहुँचे तो सुधीर का रक्त रंजित शव देखकर अचम्भित रह गये, इस बीच भीड़ भरें इलाके में हुई हत्या की सूचना किसी नें पुलिस को दी, घटनास्थल शहर के बीचो बीच होनें के बावजूद करीब 1:30 बाद पुलिस पहुँची नें पड़ोश तथा मौके पर मौजूद लोगों से घटना की जानकारी लेनें का प्रयास किया किन्तु किसी नें घटना के विषय में कुछ भी बोलनें से इन्कार कर दिया.


मृतक सुधीर की बहन लीलावती नेम बताया कि करीब 5 वर्ष पूर्व मृतक की पत्नी पियारी अपनी 10 वर्षीय पुत्री माधुरी को लेकर अलग रह रही थी तब से लेकर आज तक उसका आना जाना नही था, मृतक जीविकोपार्जन के लिये पास के सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र में झाडू व पोछे के साथ गुब्बारे बेचनें का काम करता था, मृत की बहन लीलावती नें बताया कि राजेपुर पतारी निवासी सलीम पुत्र खलील ले मृतक का साईकिल को लेकर विवाद चल रहा था, सलीम नें मृत से उसकी साईकिल भी छीन ली थी तथा 4 दिन पूर्व वह घर पर आकर मृतक से कहासुनी भी हुई थी.

कुछ समय बाद घटनास्थल पर एसपी नेहा पाण्डेय व सीओ सिटी हृदेश कठेरियों पहुँचे तथा जांच पड़ताल करते हुऐ आसपास के लोगों से पूंछताछ की, घटना बेहद संदिग्ध होनें के बावजूद पुलिस नें फोरेन्सिक टीम को बुलाना जरूरी नही समझा.

मामला पूरी तरह संदिग्ध है क्योकि जब सुधीर पर किसी धारदार हथियार से वार किये जा रहे थे तो आस पास के लोगों को उसकी चींख पुकार क्यों नही सुनाई दी, जब बहन घर पहुँची तो शब देख चिल्लानें पर आस पास के लोग इकठ्ठा हो गये, इससे हत्यारों द्वारा किसी अन्य स्थान पर हत्या कर शव मृतक के घर पर फेकने की बात भी हो सकती है, दबी जुबान मौजूद लोगों में कुछ नें आशनाई में हत्या तथा ब्याज के पैसों के लेनदेन के चलते भी हत्या की आसंका जताई जाती रही है,
मौके पर पहुँची पुलिस नें आलाधिकारियों के निरीक्झण उपरान्त शव को परीक्झण हेतु जिला ला अस्पताल स्थित शव विच्छेदन गृह भिजवाया.

रिपोर्ट :योगेन्द्र गौतम

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)

loading…




इसे भी पढ़े -