You are here

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल के अमेठी दौरे पर योगी प्रशासन का अड़ंगा

लखनऊ .गुजरात में विधान सभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृतव वाली केंद्र सरकार के विकास और उनकी योजनाओ की पोल खोलने के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की योजना अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी से भाजपा सरकार के फर्जी विकास के दावों को सार्वजनिक करने की थी किन्तु उत्तर प्रदेश की योगी प्रशासन ने राहुल की योजना पर विराम लगा दिया है .योगी प्रशासन ने राहुल के अमेठी दौरे को सुरक्षा व्यवस्था का हवाला देते हुए प्रस्तावित दौरा रद्द कर दिया है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का अमेठी दौरा 4 अक्टूबर को प्रस्तावित है, जो 6 अक्टूबर तक चलना है.

योगी प्रशासन ने कांग्रेस पार्टी को इस संबंध में पत्र भेजा है, जिसमें कहा गया है कि जनपद में कई जगह 5 अक्टूबर तक दशहरा, मुहर्रम और दुर्गा पूजा के कार्यक्रम होने हैं. जिसके चलते जिले की अधिकतर पुलिस कानून और सुरक्षा व्यवस्था में व्यस्त है.ऐसे में राहुल गांधी के कार्यक्रम के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने में काफी असुविधा होगी.

वहीं कांग्रेस ने प्रशासन के इस कदम को साजिश करार दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह का कहना है कि भाजपा हमारे नेता राहुल गांधी से घबराती है. भाजपा सरकार नहीं चाहती कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के दौरे से पहले राहुल गांधी यूपी आकर अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा करें.

अखिलेश प्रताप ने कहा कि दशहरा और मुहर्रम रविवार को खत्म हो गया है. ऐसे में ये साफ है कि अमित शाह के दौरे से पहले योगी सरकार राहुल को अमेठी नहीं जाने देना चाहती.

सनद रहे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 10 अक्टूबर को अमेठी में रहेंगे. प्रशासन की तरफ से उनके कार्यक्रम को मंजूरी मिल गई है.

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि प्रशासन राजनैतिक कारणों से राहुल गाँधी के दौरे को टालना चाहता है. जिससे अमित शाह के दौरे से पहले राहुल गाँधी अमेठी का दौरा ना कर सकें. इसलिए प्रशासन की नामंजूरी के बावजूद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का अमेठी दौरा तयशुदा तारीखों पर ही होगा यानी राहुल अपने दौरे में फिलहाल बदलाव नहीं करेंगे.

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




इसे भी पढ़े -