You are here

ददुआ हमारे पूर्वज हमारे आदर्श है -हार्दिक पटेल

 



लखनऊ.पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने आज किशान पंचायत को सम्बोधित किया ,आज हार्दिक की किशान पंचायत में भारी संख्या में किशान उपस्थिति रहे .हार्दिक पटेल ने किसानो को सम्बोधित करते हुए कहा-

  • इस देश के अंदर किसान अपनी समस्या को ख़ुद भुगत रहा है .
  • हम भी किशान के बेटे है ,५एकड़ की खेती मेरे पास भी है मैं किशान का दर्द समझ रहा हु .
  • आज बात हो रही है की हमें सीएम बनना है ,इस बात से क्या फ़ायदा। जब हम बिखरे है ,जब हम एक हो जाएँगे तो सत्ता की बात की जाय.
  • गुजरात में हमारे १.२५ लाख लोग है ,फिर भी हमें झुकाने का प्रयास किया हुआ ,हमारे १४ लोगों की हत्या कर दी गई,
  • आज चुनाव में हम बटे है ,इस देश में हम २७ करोर है परंतु ४५ लाख  आर एस एस वाले  सत्ता चला रहे है ऐसा क्यों ?
  • जिस दिन हमने २७ करोर को एक कर देश की सत्ता हासिल कर लेंगे उस दिन ग़रीबों क़िशानो का राज होगा.
  • हम ददुआ की संतान है ,ददुआ हमारे पूर्वज है ,कोई कुछ कहता रहे कहे .
  • हमें मेक इन इंडिया नहीं मेड इन इंडिया की लड़ाई लड़नी है .
  • गुजरात में पटेलो के घर में घुस कर सरकार के लोगो ने मारा है तो मेरा विरोध मोदी से है .
  • हम किसी राजनैतिक पार्टी के समर्थक नहीं.
  • देश में पेट्रोल ,सी एन जी का रेट बढ़ता है तो हड़ताल होता है परंतु जब खाद और किशान के उपयोग होने वाले वस्तु का रेट बढ़ता है तो किशान आंदोलन नहीं करता ना ही हड़ताल करता है .
  • आज ज़रूरत है देश की किशान क़ौम को एक हो जाने की हमारी अपील है आप एक हो जाओ .

इसे भी पढ़े -