You are here

प्रकाशोत्सव पर्व पर लंगर में नीतीश कुमार ने दी सेवा

पटना.प्रकाशोत्सव के मौके पर गांधी मैदान से लेकर पटना शहर तक हर कहीं गुरू के नाम की धूम है. आम से लेकर खास तक हर कोई गुरू के दरबार में मत्था टेककर और लंगर में सेवा कर गुरू की कृपा पाने की कोशिश कर रहा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी गांधी मैदान और दरबार साहिब पहुंचे. गांधी मैदान में चल रहे लंगर में नीतीश ने लंगर में सेवा दी.




इसे भी पढ़े –नीतीश से मालदार बिहार के मंत्री

सिख धर्म में सेवा का बड़ा खास महत्व है. इसे देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी रविवार को गांधी मैदान में चल रहे लंगर में सेवा दी. सेवादार बने नीतीश ने लंगर छक रहे श्रद्धालुओं को रोटी परोसी. वे कतार में बैठे एक-एक श्रद्धालु के पास गए.इस मौके पर जो बोले सो निहाल, सत श्री अकाल के नारों से हॉल गूंजता रहा.मुख्यमंत्री को रोटी देते देख अन्य सेवादार काफी उत्साहित दिखे .नीतीश कुमार ने प्रकाशोत्सव पर आए श्रद्धालुओं को कहा जी आयां नूं (बिहार की पावन धरती पर आप श्रद्धालुओं का स्वागत और इस्तकबाल है)

इसे भी पढ़े –जब तक यूपी का विकास नहीं होगा, देश का विकास नहीं होगा- नरेंद्र मोदी

मुख्यमंत्री ने गांधी मैदान में बने वीवीआईपी लाउंज, वीआईपी लाउंज और वेटिंग रूम का भी मुआयना किया. गांधी मैदान के दरबार हाल में मत्था टेकने के बाद मुख्यमंत्री ने श्रद्धालुओं का अभिवादन किया.सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए मुख्यमंत्री पंडाल में श्रद्धालु घेरा के करीब गए. श्रद्धालुओं के बीच मुख्यमंत्री के साथ सेल्फी लेने की भी होड़ थी.

प्रकाशोत्सव पर संगत की सेवा-सत्कार और सुविधाओं को मुख्यमंत्री ने करीब से जाना.उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि संगत को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े.शाम जब मुख्यमंत्री  तख्त साहिब पहुंचे तब महसूस किया कि भीड़ अधिक है.उन्होंने व्यवस्था का जायजा लिया और कहा कि भीड़ से किसी को असुविधा न हो इसका खास ख्याल रखें. उन्होंने दरबार साहिब में मत्था टेका.


इसे भी पढ़े -