You are here

स्वामी प्रसाद मौर्या के दावो की हवा निकल गई ,उम्मीद से भी कम रही भीड़

लखनऊ। बसपा के पूर्व महासचिव और बर्तमान में बीजेपी के गुणगानकर्ता स्वामी प्रसाद मौर्य के संगठन लोकतांत्रिक बहुजन मंच  द्वरा लखनऊ  रमाबाई अंबेडकर मैदान आयोजित  रैली टॉय टॉय फिश हो गई ,स्वामी प्रसाद के अनुमानित ५ लाख के भीड़ का दावा फुश हो गया सनद रहे स्वामी ने  रमाबाई अंबेडकर मैदान में मायावती की रैली का रिकार्ड तोडऩे के एलान के साथ ही पांच लाख से अधिक भीड़ जुटाने का दावा किया था। इस रैली हेतु मंगाई गयी कुर्सियां भी भरी नहीं जिसके कारण अंबेडकर मैदान का बड़ा हिस्सा खाली था।

उ.प्र. के यादवी महाभारत में अमर सिंह नारद की भूमिका निभा रहे हैं-अमित शाह

बिगत  करीब तीन माह से राज्य स्तरीय परिवर्तन रैली की तैयारियां की जा रही थी ।   स्वामी प्रसाद मौर्य ने श्रेय लेने के लिए ही  लोकतांत्रिक बहुजन मंच के बैनर टेल  रैली का आयोजन किया था । भीड़ की कमी के कारण ही मंच से  स्वामी ने कहा -‘मायावती की भी रैली इसी प्रकार होती है। उनकी रैली में इससे ज्यादा भीड़ तभी हुई जब वह सरकार में रहीं। उन्होंने मायावती को बोरिया-बिस्तर समेटकर दिल्ली भगा देने और उनका भंडाफोड़ करने का भी दावा किया था, लेकिन टिकटों के दाम गिनाने से ज्यादा कोई नई चीज नहीं बता सके।

बसपा के इस बागी स्वामी के समर्थन में कुशीनगर से कौशांबी, सोनभद्र से सहारनपुर और बलिया से बदायूं तक के लोग रैली में शिरकत करने आये। इस रैली में  अति पिछड़ी जाति कोईरी, कुशवाहा, मौर्य, शाक्य, सैनी, माली, काछी और मरार जाति के लोगों की बहुलता थी। हाल में बसपा से भाजपा में आये ज्यादातर विधायक और पूर्व विधायकों ने भी हाजिरी लगाई।

इसे भी पढ़े -