You are here

मुंबई : हिन्दू मतों से डगमगा रहा भाजपा का विश्वास , 45 मुस्लिम को बनाया उम्मीदवार

अभिषेक चौधरी

मुंबई:कट्टर हिंदूवादी राजनीति के सहारे उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में पूर्ण बहुमत की सरकार बना लेने में सफल रही भाजपा में एका -एक मुस्लिम प्रेम जाग गया है .भाजपा अब नगरीय चुनावो में मुस्लिम प्रत्याशियों को बड़े पैमाने पर चुनाव लड़ाने जा रही है .भाजपा की मुस्लिम प्रेम नीति को लेकर पार्टी व हिंदूवादी संघठनो में अन्दर खाने भाजपा के प्रति बिद्रोह का जन्म हो रहा है .

महाराष्ट्र के मालेगांव नगर निगम चुनाव में इस बार भाजपा मुस्लिम प्रत्याशियों के सहारे जीत का ताना बना बन रही है . 84 सीटों वाले मालेगांव नगर निगम सदन में भाजपा 45 से ज्यादा मुस्लिम उम्मीदवार उतार चुकी हैं. देश में भाजपाई राजनीति में यह पहला मौका है जब भाजपा ने किसी चुनाव में इतनी बड़ी संख्या में मुसलमानों को टिकट दिया हो.




मालेगांव नगर निगम चुनाव में भाजपा का सीधा मुकाबला सहयोगी शिवसेना और कांग्रेस से है. कांग्रेस ने 73 प्रत्याशियों तो एनसीपी-जनता दल(सेक्युलर) ने मिलकर 66 कैंडिडेट उतारे हैं. इस चुनाव में शिवसेना के 25 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं.

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया था. इसे लेकर पार्टी की जमकर किरकिरी हुई थी. मोदी सरकार के दो केंद्रीय मंत्री ने अपनी पार्टी पर ही सवाल खड़े किए थे और कहा था कि पार्टी को मुस्लिम उम्मीदवार उतारना चाहिए था .

फिरहाल मालेगांव नगर निगम चुनाव में भाजपा का मुस्लिम प्रेम खुल कर सामने आ रहा है ,भाजपा कार्यकर्ताओं में दबी जुबान से चर्चा है कि हिन्दू वोट बैंक पर लगता है भाजपा का विश्वास डगमगा गया है .

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -