हार्दिक पटेल को जेल में पहुंचाने के लिए ब्ल्यू प्रिंट तैयार , सरदार सेना ने किया संघर्ष का एलान

नई दिल्ली .गुजरात चुनाव ने घमंड में डूबी भाजपा को नको चने चबाने पर मजबूर कर चुके पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को पुनः भाजपा सरकार जेल में डालने के ताने बाने को अंजाम दे रही है,भाजपा कि मंशा है कि लोकसभा चुनाव के दौरान हार्दिक जेल कि सलाखों के भीतर हो जिससे कि हार्दिक के आक्रामक प्रचार से भाजपा को राहत मिल जाय . गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान एक समारोह में राजनीतिक भाषण देने के मामले में जिला प्रशासन ने पाटीदार नेता हार्दिक पटेल व एक अन्य के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. उधर हार्दिक ने सरकार व पुलिस पर उनके खिलाफ छोटे छोटे मामले दर्ज कर राजद्रोह मामले में उनकी जमानत रद्द कराने की साजिश का आरोप लगाया है.

जामनगर ग्रामीण सब डिविजनल मजिस्ट्रेट आर के पटेल की ओर से दर्ज शिकायत में बताया गया है कि पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने नवंबर 2017 में जामनगर के धुतरपुरा गांव में शिक्षा व किसान कल्याण के लिए एक समारोह की इजाजत मांगी थी, लेकिन इस सभा में हार्दिक ने राजनीतिक भाषण दिए. जिला प्रशासन का आरोप है कि हार्दिक के साथी अंकित डाडिया ने 4 नवंबर के इस समारोह की मंजूरी ली थी लेकिन इसका राजनीतिक उपयोग करने के लिए इन दोनों के खिलाफ पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. पुलिस ने गुजरात पुलिस एक्ट की धारा 36 ए, 72 2 तथा 134 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है.

पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने स्थानीय मीडिया को भेजे एक संदेश में कहा है कि विधानसभा चुनाव में पाटीदार आंदोलन के चलते भाजपा की सीटें घट गई इसलिए आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सरकार व प्रशासन उन्हें जेल में धकेलना चाहती है. हार्दिक ने कहा कि गृह मंत्रालय ने उन्हें वापस जेल में पहुंचाने के लिए एक ब्ल्यू प्रिंट तैयार किया है जिसके तहत राज्य के विविध गांव व शहरों में उनके खिलाफ छोटे छोटे मामले दर्ज कराए जाकर इनकी रिपोर्ट हाईकोर्ट को सौंपकर यह दावा किया जाएगा कि राजद्रोह के मामले में जमानत की शर्त का हार्दिक लगातार उल्लंघन कर रहा है. हार्दिक ने आरोप लगाया है कि सरकार ने अभी तक उनके खिलाफ आधा दर्जन मामले दर्ज किए हैं, इनके अलावा जहां-जहां रैली सभा की वहां भी मामले दर्ज कर उन्हें रोकने का प्रयास किया जाएगा तथा अपराध शाखा के जरिए राजद्रोह मामले में मजबूत साक्ष्य जुटाकर उच्च न्यायालय के समक्ष रखे जाएंगे उन्हें वापस जेल भेजकर आगामी लोकसभा चुनाव में पाटीदार आंदोलन के असर को कम किया जा सके.

पाटीदार नेता हार्दिक के बिरुद्ध भाजपा सरकार के गलत इरादे को देखते हुए सरदार सेना ने एलान किया है कि यदि भाजपा सरकार हार्दिक को जबरदस्ती फसा कर जेल के सलाखों के भीतर डालती है तो सरदार सेना भाजपा को मुह तोड़ जबाब देगी .

सरदार सेना के संयोजक डॉ आर एस पटेल ने कहा कि गुजरात चुनाव में घमंड में डूबी भाजपा को अपनी औकात पता चल गई ,केंद्र से लगायत राज्यों के मुख्यमंत्रियों कि बड़ी फ़ौज को लगाने के बावजूद भाजपा सैकड़ा का अंक पार नहीं कर पाई जिसकी बौखलाहट में हार्दिक भाई को जेल कि सलाखों के भीतर डालने का खड्यंत्र भाजपा कि सरकार द्वारा किया जा रहा है .लोकसभा चुनाव में अपनी हार का अंदाजा लग जाने के कारण ही प्रधानमंत्री मोदी के इशारे पर भाजपा सरकार यह कुचक्र रच रही है .देश के नौजवानों के नेता भाई हार्दिक को यदि सरकार ने फर्जी तरीके से फसाकर प्रताड़ित किया तो सरदार सेना के कार्यकर्ता ईट का जबाब पत्थर से देने को तैयार है .

सरदार सेना के सिपाही व वीरांगना अवंतिबाई क्रांति वाहिनी के रास्ट्रीय संयोजक वृज लाल लोधी एडवोकेट ने कहा कि पाटीदार समाज के नेता भाई हार्दिक पटेल को फर्जी तरीके से भाजपा सरकार द्वारा फसाकर यदि जेल कि सलाखो के भीतर डाला गया लोधी समाज के यूवा भी हार्दिक के लिए संघर्ष का बिगुल फूक सरदार सेना के कदम से कदम मिला अनायाय का प्रतिकार मजबूती के साथ करेंगे .

न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -

Leave a Comment