You are here

भाजपा के गद्दार है शत्रुधन सिन्हा -सुशील मोदी

नईदिल्ली .भाजपा के तेज तर्रार नेता व सांसद शत्रुधन सिन्हा ने राजद सुप्रीमो लालू यादव का बचाव करते हुए बिहार भाजपा बिहार पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा निश्चित तौर पर ईमानदारी और पारदर्शिता पर यकीन करती है. जब तक किसी पर आरोप साबित ना हो जाए उसे आरोपी नहीं कहना चाहिए.

सनद रहे भाजपा नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने हाल ही में राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू यादव और उनके परिजनों पर बेनामी संपत्ति के रूप में करोड़ों रुपये जुटाने के आरोप लगाए थे.शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा नेता सुशील मोदी के साथ लालू यादव और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को नकारात्कम राजनीति बंद करने की बात कही.

शत्रुघ्न ने सुशील मोदी को जवाब देने के अंदाज़ में ट्वीट किया, सकारात्मक आलोचना को विद्रोह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए. बल्कि इस पर पार्टी के भीतर चर्चा होनी चाहिए.

भाजपा के ही सांसद कि नशिहत पर पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी ट्विटर पर ही पार्टी सांसद शत्रुधन सिन्हा को गद्दार कहा "ये ज़रूरी नहीं जो मशहूर है उस पर ऐतबार किया जाए, जितनी जल्दी हो घर से गद्दारों को बाहर किया जाए. जिस लालू की बेनामी संपत्ति के बचाव में नीतीश नहीं उतरे, उसके बचाव में भाजपा के 'शत्रु' कूद पड़े.

इसी बीच उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के ट्वीट को हाथों-हाथ लेते हुए भाजपा पर जमकर निशाना साधा है.
तेजस्वी ने शत्रुघ्न सिन्हा का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, "जो आपको शत्रु कहता है, वह खुद को सुशील कैसे हुआ? उन्हें बीजेपी में आप और कीर्ति आज़ाद जैसे अनेकों चुने हुए जनप्रतिनिधियों से समस्या है.

तेजस्वी ने एक और ट्वीट किया और लिखा "झूठे आरोप लगाने वाला बिहार बीजेपी का वह नेता सभी रंगों में झूठ बोलने का विशेषज्ञ है. वह शायद रंग दृष्टिहीनता का शिकार है.
इतना ही नहीं तेजस्वी ने उत्तर प्रदेश में दलितों पर हो रहे अत्त्याचार और मीडिया को क्यों नहीं दिखता दलितों का संघर्ष मुद्दे पर भी ट्वीट कर हमला बोला ,उन्होंने लिखा कि
'क्योंकि वो मनुस्मृति को नहीं मानते। क्योंकि वो वर्ण व्यवस्था मे निचले पायदान पर है क्योंकि वो सदियो से उत्पीडित,उपेक्षित,वंचित और शोषित है।

इसे भी पढ़े -

Leave a Comment