You are here

RSS और PM मोदी के लिए सरदर्द बना स्वदेशी जागरण मंच ,करेगा केन्द्र की नीतियों का विरोध

नई दिल्ली.केंद्र की मोदी सरकार तामम नीतियों को लेकर विपक्ष व सहयोगी दलों के निशाने पर है इस बीच खबर है कि भारतीय मजदूर संघ के बाद आरएसएस के अनुसांगिक संघठन स्वदेशी जागरण म मंच और सात अन्य किसान, मज़दूर और व्यापारी संघों ने मोदी सरकार की विदेशी निवेश नीति, भारतीय बाजारों में चीनी सामान की बढ़ती मौजूदगी समेत दूसरी आर्थिक नीतियों के खिलाफ 29 अक्टूबर को स्वदेशी महारैली का ऐलान कर दिया है .

स्वदेशी जागरण मंच के विरोध की खबरों ने मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है .स्वदेशी जागरण मंच राष्ट्रीय प्रचार प्रमुख दीपक शर्मा ने समाचार चैनल एनडीटीवी से कहा कि हम असंगठित क्षेत्र में करोड़ों बेरोजगारों के समर्थन में रैली कर रहे हैं. देश में बेरोजगारी की स्थिति चिंताजनक होती जा रही है. ऐसे में रोजगार-सृजन वाले क्षेत्रों में विदेशी निवेश का आह्वाहन बेरोजगारी को और बढ़ाएगा.जिन सेक्टरों में रोजगार ज्यादा पैदा होता है, वहां विदेशी निवेश को मंजूरी देने से स्थानीय लोगों की रोजी-रोटी छिन जाती है.

स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय प्रचार प्रमुख दीपक शर्मा के वयानो से साफ है कि संघ परिवार से जुड़े अनुसांगिक संघठन अब खुलकर मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल उठाने लगे हैं. उन्हें अब भारतीय किसान यूनियन (टिकैत), भारतीय उद्योग व्यापार मंडल और भारतीय कृषक समाज जैसे संगठन का भी साथ मिल रहा है.

एनडीटीवी के अनुसार उद्योग संस्थानों की संस्था पीएचडी चैंबर्स में पूर्व अध्यक्ष रवि विग कहते हैं कि चीन ने भारतीय अर्थव्यवस्था को डंपिंग ग्राउंड बना दिया है.वो हमारी अर्थव्यवस्था को कमज़ोर करना चाहता है. उनका इशारा है कि चीन सरकार भारत में विदेश निवेश की सरल नीति का दुरूपयोग कर रही है और मौजूदा व्यवस्था उसे रोकने में नाकाम साबित हो रही है. सनद रहे ले भारतीय मजदूर संघ ने भी 17 नवंबर को दिल्ली में अपने करीब पांच लाख कार्यकर्ताओं की महारैली करने का ऐलान कर चुका है.
न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -