You are here

अहंकारी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मेरे पत्रों का जवाब नहीं दिया: अन्ना हजारे

नई दिल्ली .भ्रष्टाचार विरोधी भ्रष्टाचारकर्ता अन्ना हजारे ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को “अपने प्रधानमंत्री का अहंकार” है और यह दावा करतें हैं कि प्रधानमंत्री उनके पत्रों का जवाब नहीं दे रहे हैं.

हजारे महाराष्ट्र के सांगली जिले में आटपाडी तहसील में एक सार्वजनिक रैली में बोलते हुए दावा किया कि “मैंने पिछले तीन सालों में प्रधान मंत्री मोदी को 30 से ज्यादा पत्र लिखे हैं, लेकिन उन्होंने उनका जवाब नहीं दिया. मोदी के पास अपने प्रधानमंत्री का अहंकार है, इसलिए उन्होंने मेरे अक्षरों का जवाब नहीं दिया.

इससे पहले हजारे ने घोषणा की थी कि वह 23 मार्च से नई दिल्ली में एक और दौर के आंदोलन की योजना बना रहे हैं. अतापी में कल रैली में पहली रैली थी कि हजारे 23 मार्च आंदोलन को समर्थन देने के प्रयास में संबोधित करेंगे.

उन्होंने कहाकि यह कभी-कभी नहीं देखा जाएगा-पहले भारी आंदोलन होगा जो सरकार को चेतावनी होगी. मेरे रैलियों और आंदोलनों के माध्यम से वोट पाने का कोई इरादा नहीं है जिस लोकपाल के लिए एक बड़ी रैली थी, मेरा मानना है कि किसानों के मुद्दों पर इसी तरह के आंदोलन होंगे.

हजारे ने कहा कि उनकी मांगों में लोकपाल का कार्यान्वयन, लोकायुक्त की नियुक्ति, किसानों के लिए 5,000 रुपए और कृषि उत्पादों के लिए उच्च दर शामिल होगा.न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .<a

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)


(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

(sc_adv_out = window.sc_adv_out || []).upsh({
id : “240339”,
domain : “n.ads3-adnow.com”
});

इसे भी पढ़े -