You are here

निकाय चुनाव हुई भाजपा की करारी हार ,मोदी के क्षेत्र में हुआ सफाया

दिल्ली .समाजवादी पार्टी के प्रमुख महासचिव प्रो. रामगोपाल ने कहा है कि निकाय चुनाव में भाजपा केवल नगर निगमों में मेयर सीटों पर हुई जीत के आंकड़े के आधार पर भाजपा लहर की बात कह रही है जबकि वास्तविकता यह है कि निकाय चुनाव में भाजपा की जबरदस्त करारी हार हुई है. बीजेपी की जीत सिर्फ उन्हीं हिस्सों में हुई, जहां ईवीएम से वोटिंग हुई। बैलट से जहां वोट पड़े, वहां भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है .
नगर पालिका में 130 सीटें हारी बीजेपी

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का बहुत बड़ा हिस्सा नगर पालिका परिषदों और नगर पंचायतों से कवर होता है. वहां भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है . नगर पालिका परिषद अध्यक्ष के 198 पदों में भाजपा केवल 68 सीटें जीती और 130 हारी, नगर पंचायत अध्यक्ष के 438 पदों पर हुए चुनाव में भाजपा 100 सीटें ही जीत पाई , नगर पालिका परिषद के सदस्य के 5261 पदों में बीभाजपा केवल 914 सीटें ही हासिल कर सकी तो नगर पंचायत सदस्यों की 5390 सीटों में भाजपा केवल 662 सीटें जीती और 4728 हार गई।.सिर्फ दस महीने पहले हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा को 43 फीसदी वोट मिले थे किन्तु नगरिय निकाय के चुनाव ने भाजपा के खिलाफ 66 प्रतिशत मतदाता रहा है .

प्रो. रामगोपाल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मेयर तो भाजपा का जीता पर गंगापुर और रामनगर नगर पालिका से भाजपा का सफाया हो गया . नगर निगम की 90 पार्षद सीटों में केवल 36 पर ही भाजपा को जीत मिल सकी किन्तु अफवाह फ़ैलाने में माहिर खिलाडी उत्तर प्रदेश में भाजपा लहर की बात कर रहे है .

न्यूज़ अटैक हाशिए पर खड़े समाज की आवाज बनने का एक प्रयास है. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारा आर्थिक सहयोग करें .

न्यूज़ अटैक का पेज लाइक करें –
(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)






इसे भी पढ़े -