You are here

योगीराज : नाबालिक से हुआ बलात्कार का प्रयास,पुलिस ने पीड़िता को थाने से भगाया


उन्नाव.उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में महिला उत्पीड़न की संख्या दिन -प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, वही उन्नाव पुलिस ने नाबालिक लड़की की बलात्कार के प्रयाश सम्बन्धी शिकायत पर कार्यवाही की बजाय उसे थाने से भगा कर अपराध कम होने दावा करने से बाज नहीं आ रही है .

उक्त ममाल उन्नाव जनपद के ग्राम तालिब नगर थाना माखी से आया है . घटना दिनांक 12-6-2017 का है किन्तु पीडिता अभी भी न्याय हेतु दर दर भटक रही है . न्याय की आस खो चुकी पीड़िता ने आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुँच कर अपर पुलिस अधीक्षक को अपनी आप बीती सुनाई.

यूजीसी के इस फैसले से बदल जाएगा भारत में उच्च शिक्षा का परिदृश्य

बताते चले कि तालिब नगर निवासी सुनील लोध पुत्री कंचन 13 वर्ष शाम करीब 6 :30 बजे भैस चराने के लिए खेतो की तरफ गयी थी तभी तालिब नगर निवासी अमित पुत्र प्रकाश ने कंचन को रुपयों का लालच देकर उसे नगवा पुलिया के पास ले गया. जहाँ पहले से घात लागए बैठे तालिब नगर निवासी दुर्गेश पुत्र हीरालाल 22 वर्ष अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए अमित के साथ कंचन को बदनीयती से दबोच लिया और कपड़े फाड़कर नाबालिक को निर्वस्त्र कर उसका मुंह दबाकर उसके साथ जोर जबरदस्ती करने लगा . जोर जबर्दस्ती होता देख नाबालिक जोर-जोर से चिल्लाने लगी तभी अमित और दुर्गेश ने पीड़िता को पैर पकड़कर जमीन पर पटक दिया. नाबालिक की आवाज सुनकर थाना बाजार से लौट रहे कुछ राहगीर रुक गए , राहगीरो की नजर जैसे ही पुलिया के तरफ दौड़ी तो उन्होंने देखा कि नाबालिक लड़की को 2 लड़के दबोचे है उन्होंने दौड़कर उक्त लोगो को पकड़ने का प्रयास किया, राहगीरो को अपनी तरफ आता देख दुर्गेश और अमित अपने गांव की तरफ भाग गए और भागते समय नाबालिक पीड़िता को धमकी देते हुए कहा कि अगर कही शिकायत की तो जान से मार डालेंगे .

गेरुआ वस्त्र में छिपा हिन्दू धर्म का गुंडा ठाकुर सत्यनारायण सिंह उर्फ़ योगी सत्यम,राज्यपाल राम नाइक का संरक्षण ?

घटना के बाद नाबालिक पीड़िता रोते हुए अपने घर पहुँच अपनी माँ को पूरी बात बताई. तब पीड़िता की माँ मीना अपने पति सुनील के साथ आरोपी लड़को के घर गयी तो पहले से ही लाठी डंडो से लैस लड़को के परिजनों ने उल्टा पीड़िता की माँ मीना और उसके पिता सुनील को लाठी डंडो से मारना पीटना शुरु कर दिया और धमकी देते हुए कहा कि अगर कही और शिकायत की तो तुम्हारी बेटी को जान से मार देंगे. इसके बाद पीड़िता की माँ तहरीर लेकर रात्रि 8 बजे थाने गयी जहाँ उसे आश्वासन की घुट पिलाते हुए भगा दिया गया .

यूपी डायल 100 को भी सूचित किया था

पीड़िता के परिवारी जनो ने घटनास्थल की सूचना 8808053945 नम्बर से दी थी. इसके बावजूद भी यूपी डायल 100 घटनास्थल पर न पहुँची.

पहले से नग्नावस्था में था आरोपी दुर्गेश

नाबालिक पीड़िता के अनुसार जब अमित उसे अपने साथ रुपयो का लालच लेकर पुलिया के पास ले गया था तो पहले से मौजूद दुर्गेश नग्नावस्था में था, आरोपी दुर्गेश टेम्पो चालक बताया जा रहा है.

रिपोर्ट-योगेंद्र गौतम

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़े -