You are here

यादव जी के घर पर प्रधान रोहित शुक्ला का हमला , मारे गए शुक्ला समर्थक हमलावर

लखनऊ .उत्तर प्रदेश में सवर्ण जातियों का खून इस सरकार में इतना गर्म हो गया है कि बदले की नियत से सवर्ण जातियों के गुंडे खुले आम दलितों -पिछड़ो के साथ गुंडागर्दी पर अमादा है .रायबरेली जनपद के ऊंचाहार थाना क्षेत्र के इटोरा बुजुर्ग गांव में भी ऐसा ही हादसा हुआ जिसमे 5 की जाने चली गई .

इसे भी पढ़े . – योगी राज : इज्जत के रखवालो ने पुलिस लाइन में ही किशोरी की इज्जत को किया तार -तार

बताया जाता है कि हमलावर चुनावी रंजिश का बदला लेने की नियति से एक महिला ग्राम प्रधान राम श्री यादव के बेटे राजा यादव की हत्या की नियति से ताबड़तोड़ गोलिया बरसाते हुए राजा यादव के घर पर हमला कर दिया .हमले की मुख्य वजह चुनावी रंजिस बताई जा रही है.



प्रतापगढ़ के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र के देवरा गांव का प्रधान रोहित शुक्ला का इतोरा बुजुर्ग गांव में ननिहाल है. उसे यहां काफी संपत्ति विरासत में मिली है. रोहित ने गांव में ही हाल में घर भी बनवाया है. बताते हैं की रोहित का इरादा ग्राम पंचायत की राजनीति में सक्रिय होने का था. इसी से उसकी महिला ग्राम प्रधान राम श्री यादव के बेटे राजा यादव से पट नहीं रही थी.

इसे भी पढ़े . – अडानी और अम्बानी को लेकर दलाली कर रहे PM मोदी

इसी राजनीतिक बदले की नियति से रोहित शुक्ला आज अपने समर्थकों के साथ गांव आया और राजा यादव के घर पर ताबड़तोड़ फायर करते हुए धावा बोल दिया. हमले के बाद रोहित और उसके समर्थक स्कारपियो गाड़ी से भागने लगे तभी उनकी गाड़ी गांव से 2 किलोमीटर दूर एक विधुत पोल से टकरा गई. दुर्घटना के होने के बाद गाड़ी गाड़ी में सवार तीन हमलावर किसी तरह बाहर निकल आए और दो गाड़ी में ही फंसे रहे.


प्रधान पुत्र राजा यादव पर हमले की खबर क्षेत्र में आग की तरह फ़ैल गई और क्षेत्रवासी हमलावरों का पीछा करते हुए पोल से लड़ी स्कारपियो गाड़ी के पास पहुचे उस वक्त गाड़ी से बाहर निकल आए 3 हमलावरों ने क्षेत्रवासियों से घिरा देख असलहे के बल पर धमकाने लगे किन्तु हमले से खार खाए क्षेत्र वासी इस धमकी पर लाठी डंडो से पीट पीटकर हमलावर गुंडों को मार डाला और गाड़ी को आग लगा दी. इससे गाड़ी में फंसे बाकी हमलावर जिंदा जल गए.

इसे भी पढ़े – जन्मदिन पर विशेष : आरक्षण के जनक छत्रपति शाहूजी महाराज को नमन्

घटना के बाद से ही क्षेत्र में तनाव का माहौल है. गांव में कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है.सूचना मिलने पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच चुकी है.

पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह भी देर रात घटनास्थल पर पहुंच गए . एसपी ने बताया कि घटनास्थल पर पड़े शवों पर लाठी-डंडों से चोट के निशान दिखाई दिए हैं. किसी भी शव की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पाई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत के असली कारणों का पता चलेगा.
इस बीच आईजी और जोन के एडीजी अभय कुमार प्रसाद देर रात मौके पर पहुंचे और उन्होंने घटनास्थल का जायजा लिया.उन्होंने एसपी को घटना के खुलासे के निर्देश दिए.

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)




loading…


इसे भी पढ़े -

One Thought to “यादव जी के घर पर प्रधान रोहित शुक्ला का हमला , मारे गए शुक्ला समर्थक हमलावर”

Leave a Comment